ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश मेरठबैक फॉर्म भरने से छूटे छात्रों को आखिरी मौका

बैक फॉर्म भरने से छूटे छात्रों को आखिरी मौका

बीते वर्ष दिसंबर में हो चुकी मुख्य परीक्षा-2023 की बैक परीक्षाओं में शामिल होने से वंचित रहे छात्र-छात्राओं को चौ.चरण सिंह विवि ने एक मौका और दे...

बैक फॉर्म भरने से छूटे छात्रों को आखिरी मौका
हिन्दुस्तान टीम,मेरठSat, 03 Feb 2024 02:10 AM
ऐप पर पढ़ें

मेरठ। बीते वर्ष दिसंबर में हो चुकी मुख्य परीक्षा-2023 की बैक परीक्षाओं में शामिल होने से वंचित रहे छात्र-छात्राओं को चौ.चरण सिंह विवि ने एक मौका और दे दिया है। जो छात्र किन्हीं कारणों से पूर्व में बैक फॉर्म नहीं भर सके थे वे मार्च 2024 में प्रस्तावित मुख्य परीक्षा के साथ ये फॉर्म भर सकते हैं।

जो छात्र 2023 के बैक पेपर में एक या अधिक विषय कोड की परीक्षा में शामिल हो चुके हैं वे अब बैक फॉर्म नहीं भर सकेंगे। छात्रों को किसी भी स्थिति में री-बैक की अनुमति नहीं है। यदि कोई छात्र दुबारा बैक फॉर्म भरता है तो वह स्वत: निरस्त माना जाएगा। विवि के अनुसार छात्र 10 फरवरी तक बैक फॉर्म भरते हुए फीस जमा करा सकते हैं। 12 फरवरी तक कॉलेज छात्रों के फॉर्म सत्यापित करते हुए 13 फरवरी तक कैंपस में जमा कराएंगे।

ट्रेडिशनल-प्रोफेशनल के छूटे प्रैक्टिकल 10 केंद्रों पर

विवि ने यूजी-पीजी में ट्रेडिशनल-प्रोफेशनल कोर्स में छूटे प्रैक्टिकल दुबारा कराने के लिए दस केंद्र बनाए हैं। जो छात्र निर्धारित फीस एवं आवेदन कैंपस में जमा कर चुके हैं, उन छात्रों के प्रैक्टिकल तय केंद्रों पर होंगे। बीएससी एजी, एमएससी एजी, बीएससी-एमएससी औद्योगिक रसायन, औद्योगिक सूक्ष्म जीव विज्ञान के प्रैक्टिकल जेवी कॉलेज बड़ौत में होंगे। बीएससी शारीरिक शिक्षा, स्वास्थ्य शिक्षा एवं क्रीड़ा, बीए शारीरिक शिक्षा कोड 785, 885, 985, बीए-एमए दर्शनशास्त्र का प्रैक्टिकल एमएमएच कॉलेज गाजियाबाद, एमए, एमएससी, बीए, बीएससी भौतिक विज्ञान, केमेस्ट्री, बॉटनी, जूलॉजी, गणित, सांख्यिकी, बीए कम्प्यूटर एप्लीकेशन, बीए, बीएससी, बीकॉम कोड 00, 002, 003, बीकॉम सी-991, एमकॉम के लिए डीएन कॉलेज मेरठ, उर्दू, रसायन शास्त्र के लिए मेरठ कॉलेज, बीए-एमए एजुकेशन, समाजशास्त्र, अर्थशास्त्र, हिन्दी, राजनीतिशास्त्र, संस्कृत, इतिहास, बीए-एलएलबी, बीकॉम-एलएलबी, एलएलबी एवं एलएलएम के लिए एनएएस कॉलेज, बीए, एमए गृह विज्ञान, संगीत, चित्रकला, मनोविज्ञान, भूगोल, अंग्रजी, बीएससी, एमएससी फूड साइंस एंड क्वालिटी कंट्रोल के लिए आरजी कॉलेज, एमए भू-विज्ञान के लिए जेवी जैन कॉलेज सहारनपुर, बीएससी माइक्रोबॉयोलॉजी के लिए राजकीय पीजी कॉलेज नोएडा, एमए शारीरिक शिक्षा के लिए शहीद मंडल पांडे महिला कॉलेज माधवपुरम, बीए-बीएड एवं बीएलएड के लिए भगवती कॉलेज ऑफ एजुकेशन सिवाया केंद्र रहेगा। विवि ने छात्रों से प्रैक्टिकल तिथि के लिए संबंधित कॉलेजों के संपर्क में रहने के निर्देश दिए हैं। तिथि की घोषणा अब कॉलेज स्तर से होगी।

एमएड, एमपीएड के पेपर 22 फरवरी से

विवि ने कैंपस और एडेड-निजी कॉलेजों में एमएड एवं एमपीएड कोर्स की परीक्षाएं 22 फरवरी से होंगी। विवि ने शुक्रवार को परीक्षा कार्यक्रम जारी कर दिया। एमएड एवं एमपीएड प्रथम सेमेस्टर के पेपर 22 से 28 फरवरी तक दस से एक बजे की पाली में होंगे। छात्र अधिक जानकारी विवि वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं।

छठे सेमेस्टर में समायोजित होगा माइनर का शुल्क

विवि ने बीसीए पंचम सेमेस्टर में ली गई माइनर प्रोजेक्ट की 13 सौ रुपये की फीस को छठे सेमेस्टर में समायोजित करने को हरी झंडी दे दी है। यह फीस छठे सेमेस्टर में ली जानी थी, लेकिन त्रुटिवश कंपनी ने पंचम सेमेस्टर में यह फीस जोड़कर जमा करवा दी। विवि के अनुसार जिन छात्रों ने पंचम सेमेस्टर में माइनर प्रोजेक्ट की फीस जाम कर दी है, उन्हें छठे सेमेस्टर में इसे दुबारा जमा कराने की जरुरत नहीं पड़ेगी। वहीं, विवि ने एनईपी यूजी में को-कुरिकुलम विषय में अधिकांश छात्रों के पास होने के बावजूद बैक फॉर्म भर चुके छात्रों की फीस वापसी पर अभी कोई निर्णय नहीं लिया है। ऐसे छात्र हजारों में हैं।

बीकॉम की उत्तर कुंजी जारी

विवि ने बीकॉम फाइनल बैक में पेपर कोड 301, 302, 303, 304, 305 एवं 306 न्यू कोर्स की उत्तर कुंजी जारी कर दी हैं। विवि के अनुसार यदि छात्रों को उत्तर कुंजी पर आपत्ति है तो वे निर्धारित ईमेल आईडी पर पांच फरवरी की रात 12 बजे तक भेज सकते हैं। इसके बाद विवि कोई आपत्ति स्वीकार नहीं करेगा।

19 फरवरी को होगा लॉ कोर्स वर्क का पेपर

विवि में लॉ विषय में प्री-पीएचडी कोर्सवर्क का पेपर 19 फरवरी को होगा। पेपर विवि कैंपस स्थित कांशीराम शोध पीठ में रहेगा। विवि के अनुसार जिन छात्रों की पूर्व में रिसर्च मैथोडलॉजी कोर्सवर्क का पेपर छूट गया था वे 19 फरवरी को पहले के प्रवेश पत्र से अपनी परीक्षा दे सकते हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें