julush in meerut - फोर्स की मौजूदगी में निकाले गए बारावफात के जुलूस DA Image
13 नबम्बर, 2019|6:44|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फोर्स की मौजूदगी में निकाले गए बारावफात के जुलूस

फोर्स की मौजूदगी में निकाले गए बारावफात के जुलूस

बारावफात के जुलूस रविवार को पुलिस, पीएसी और पैरा मिलिट्री फोर्स की निगरानी में सकुशल निकाले गए। बाइक सवार युवकों पर इंटेलीजेंस और एलआईयू की विशेष नजर रही। खुफिया एजेंसियां भी पूरी तरह सतर्क रहीं। बारावफात के चलते अन्य कई कार्यक्रमों को अनुमति नहीं दी गई।

नौचंदी क्षेत्र में बाले मियां दरगाह से प्रस्तावित बारावफात का जुलूस परमिशन नहीं मिलने के कारण रद कर दिया गया। हालांकि सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस और पीएसी तैनात रही। कोतवाली क्षेत्र में आयोजित जलसे में पीएसी की निगरानी रही। घंटाघर से फैज-ए-आम इंटर कॉलेज तक निकाले गए जुलूस में आधा कंपनी पीएसी मौजूद रही। शाहपीर गेट से जुलूस में सिटी मजिस्ट्रेट संजय पांडेय और सीओ दिनेश शुक्ला मौजूद रहे। लालकुर्ती क्षेत्र में बारावफात के जुलूस में एएसपी धवल जयसवाल ने सुरक्षा व्यवस्था संभाली।

पुलिस के अलावा प्रशासन ने मजिस्ट्रेट को भी विभिन्न जुलूसों में निगरानी के लिए तैनात कर रखा था। सभी जुलूस बॉक्स फॉर्म सिक्योरिटी में निकाले गए। बॉक्स फार्म में जुलूस के आगे-पीछे, दाएं-बाएं पुलिस साथ-साथ चलती है। सोतीगंज में पुलिस की अस्थायी पिकेट दिनभर लगी रही। जुलूस वाले रास्तों पर कार्यक्रम शुरू होने से पहले ड्रोन कैमरों से निगरानी की गई। एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रही। कहीं किसी तरह की अप्रिय सूचना नहीं आई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:julush in meerut