DA Image
1 अक्तूबर, 2020|5:51|IST

अगली स्टोरी

ईदगाह पर धार्मिक नारे लिखने में जम्मू-कश्मीर का संदिग्ध गिरफ्तार

ईदगाह पर धार्मिक नारे लिखने में जम्मू-कश्मीर का संदिग्ध गिरफ्तार

ईदगाह पर पूजा-अर्चना करके धार्मिक शब्द लिखने के मामले में किठौर थाना पुलिस ने गुरुवार को जम्मू कश्मीर के एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया है। जांच-पड़ताल के लिए जम्मू पुलिस की एक टीम उसके घर भेजी गई। पता चला कि वह मानसिक रूप से विक्षिप्त है। तीन महीना पहले परिजनों को बिना कुछ बताए घर से निकल गया था। हालांकि उसे चार भाषाओं का अच्छा ज्ञान है। मानसिक दशा जानने के लिए पुलिस उसका मेडिकल टेस्ट करा रही है।

पांच दिन पहले शाहजहांपुर कस्बे की ईदगाह में दीवारों पर स्लोगन लिखकर रमजान माह में माहौल भड़काने की कोशिश हुई थी। उस वक्त पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। एहतियातन ईदगाह के आसपास सीसीटीवी कैमरे भी लगवाए गए थे। इस मामले में किठौर पुलिस को गुरुवार को सफलता मिली। अलसुबह एक व्यक्ति ने ईदगाह में एक अज्ञात व्यक्ति को सोता हुआ देखा तो तुरंत पुलिस को खबर दी। चेयरपर्सन पति तबारक उल्ला, इंस्पेक्टर रोजंत त्यागी और ईदगाह की इंतजामिया कमेटी के लोग मौके पर पहुंच गए। युवक से पूछताछ की गई। उसके पास कुछ गेंदे के फूल भी पड़े हुए थे। बीते रविवार को उसने स्लोगन लिखने की बात स्वीकारी। भरोसा करने के लिए पुलिस ने फूल से उसी तरह के स्लोगन लिखवाए। तब जाकर संतुष्टि हुई। इसके बाद आरोपी को थाने पर लाया गया।

ऊधमपुर में घर भेजी गई पुलिस

एसपी देहात अविनाश पांडेय ने बताया कि आरोपी व्यक्ति अशोक कुमार है। वह जम्मू कश्मीर में ऊधमपुर जिले के थाना चनेनी अंतर्गत गांव शुधमहादेव का रहने वाला है। मेरठ पुलिस ने जम्मू पुलिस से संपर्क साधा। इसके बाद चनेनी थाने की पुलिस अशोक के घर पर गई। परिजनों ने पुलिस को बताया कि अशोक मानसिक रूप से विक्षिप्त है। हालांकि वह हिंदी, उर्दू, संस्कृत और अंग्रेजी में पारंगत है। वह तीन महीना पहले बिना बताए पैदल निकल गया था। किठौर में करीब सात दिन पहले आया था। ईदगाह पर ही रात में सो जाता था। एसपी ने बताया कि युवक का मेडिकल परीक्षण कराया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Jammu and Kashmir suspect arrested for writing religious slogans on Idgah