DA Image
24 अक्तूबर, 2020|8:48|IST

अगली स्टोरी

सलावा में खेल विश्वविद्यालय पर सिंचाई विभाग की मुहर

सलावा में खेल विश्वविद्यालय पर सिंचाई विभाग की मुहर

मेरठ। मुख्य संवाददाता

जिले के सलावा में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना का प्रस्ताव अब धीरे-धीरे आगे बढ़ने लगा है। जहां सिंचाई विभाग ने गंगनहर किनारे विभाग की जमीन में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना पर मुहर लगा दी है। वहीं सिंचाई विभाग की 34 हेक्टेयर जमीन में से 80 एकड़ जमीन का प्रस्ताव सरधना तहसील ने शासन को भेज दिया है। गंगनहर किनारे सलावा की इस जमीन में ही खेल विश्वविद्यालय का प्रस्ताव है। अब जल्द ही कैबिनेट की बैठक में खेल विश्वविद्यालय का प्रस्ताव फाइनल होने के बाद आगे की कार्रवाई तेज हो जाएगी।

सरधना विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत सलावा में सिंचाई विभाग की 34 हेक्टेयर जमीन उपलब्ध है। इस जमीन पर किसी बड़े प्रोजेक्ट को लेकर अब तक विचार नहीं हुआ था। जमीन पड़ी हुई है। जब मेरठ जिले मं खेल विश्वविद्यालय का प्रस्ताव जिले से मांगा गया तो नंबर-1 पर मेरठ जिले में सलावा की जमीन का प्रस्ताव दिया गया। कारण सिंचाई विभाग से खेल विभाग या शिक्षा विभाग को जमीन ट्रांसफर होना आसान है। सिंचाई विभाग ने उस जमीन में खेल विश्वविद्यालय के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी है। उधर, शासन ने जब खेल विश्वविद्यालय का प्रस्ताव मांगा गया तो पहले चरण में सरधना तहसील से 50 एकड़ जमीन का प्रस्ताव भेजा गया था। तब शासन ने यह सवाल उठाया कि और जमीन उपलब्ध हो सकता है क्या। इस पर अब सरधना एसडीएम अमित कुमार भारतीय ने 30 एकड़ और जमीन उपलब्ध होने की रिपोर्ट भेज दी है। साथ ही यह भी कहा गया है कि जमीन की और आवश्यकता होगी तो उपलब्ध कराई जाएगी। जमीन की कोई कमी नहीं है।

बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर मिलेंगे

खेल विश्वविद्यालय के लिए आदेश होने के बाद बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। एक खेल विश्वविद्यालय के लिए मानकों के तहत कुलपति से लेकर 31 तरह के प्रशासनिक पद होते हैं। वहीं शिक्षण के लिए प्रोफेसर, शिक्षक के पद भी दर्जनों में होंगे। साथ ही विभिन्न कोर्स के लिए अलग-अलग पदों का सृजन होगा, जो शासन से जारी आदेश के तहत गाइडलाइन में तय होगा।

खेल विश्वविद्यालय के नक्शे पर मंथन जारी

शासन के स्तर पर खेल विश्वविद्यालय के नक्शे पर मंथन जारी है। शासन की ओर से खेल विभाग को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। सोमवार तक नक्शा तैयार कराकर उपलब्ध किए जाने की संभावना है।

सरधना के साथ होगा जिले का विकास

सरधना क्षेत्र में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना एक बड़ी बात होगी। इससे सरधना क्षेत्र के साथ ही मेरठ के खेल उद्योग, कारोबार का विकास होगा। जिले के खेल उद्योग और खिलाड़ियों के हित में यह प्रस्ताव है - संगीत सोम, विधायक, सरधना।

राजनीति भी कम नहीं

सरधना के सलावा में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना को लेकर राजनीति भी कम नहीं है। बड़े-बड़े नेता, विधायक, शताब्दीनगर, हस्तिनापुर में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना की मांग कर रहे थे। विचार भी चल रहा था, लेकिन अचानक सलावा का प्रस्ताव स्वीकृत हो गया। यह जिले में राजनीतिक तौर से भी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Irrigation department 39 s seal on sports university in Salwa