DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  मेरठ  ›  ब्रह्मपुरी वाहन चोरी प्रकरण में पुलिस के खिलाफ अटकी जांच

मेरठब्रह्मपुरी वाहन चोरी प्रकरण में पुलिस के खिलाफ अटकी जांच

हिन्दुस्तान टीम,मेरठPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 03:51 AM
ब्रह्मपुरी वाहन चोरी प्रकरण में पुलिस के खिलाफ अटकी जांच

ब्रह्मपुरी पुलिस के खिलाफ वाहन चोरी के मामले में जांच अधर में लटकी हुई है। इस मामले में पीड़ित पक्ष ने सोमवार को दोबारा एडीजी से मिलकर इंसाफ की मांग की। एडीजी ने जांच के निर्देश दिए हैं। पुलिस पर आरोप है कि बदायूं के दो लोगों को इस मामले में फर्जी फंसाया और वसूली की गई। रकम पेटीएम से ट्रांसफर कराई गई, जिसका सबूत दिया गया।

ब्रह्मपुरी पुलिस ने सप्ताह पूर्व एक वाहन चोर गिरोह का खुलासा करते हुए तीन लोगों को गिरफ्तार दिखाया था। पुलिस ने खुलासा किया कि मोहसीन उर्फ बबलू की सोतीगंज में दुकान है। मोहसीन अपने साथी आफताब के साथ मिलकर दिल्ली से उसी मॉडल की गाड़ियां चोरी कर लाकर नंबर बदलकर बेच देता है। मोहसीन ने एक गाड़ी का सौदा बदायूं निवासी आशू और रफीक के साथ किया था। पुलिस ने मोहसीन, आशू और रफीक को गिरफ्तार दिखाया था और एक कार बरामद की थी।

ये लगाए पुलिस पर आरोप

रफीक के पिता रहीस अहमद ने एडीजी को शिकायती पत्र दिया था। बताया कि उनकी गाड़ी कुछ माह पूर्व दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी। इस गाड़ी को मेरठ ठीक कराने के लिए आए थे और पुलिस ने फर्जी मुकदमे में फंसा दिया। आरोप लगाया कि पुलिस ने पेटीएम से पैसा ट्रांसफर कराया है। अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। पीड़ित परिवार सोमवार को दोबारा एडीजी से मिला और परिवार के सदस्यों की रिहाई की मांग की। अभी तक पुलिस के खिलाफ न जांच पूरी हुई और न ही कोई कार्रवाई हुई।

संबंधित खबरें