DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  मेरठ  ›  हाल ए सोसायटी : क्लाउड 9 के फ्लैटों में कैद हैं 54 परिवार
मेरठ

हाल ए सोसायटी : क्लाउड 9 के फ्लैटों में कैद हैं 54 परिवार

हिन्दुस्तान टीम,मेरठPublished By: Newswrap
Wed, 26 May 2021 03:50 AM
हाल ए सोसायटी : क्लाउड 9 के फ्लैटों में कैद हैं 54 परिवार

कुटी चौराहे के पास अंसल कॉलोनी से पहले क्लाउड 9 बहुमंजिला इमारत में कोरोना को लेकर लोगों के दिलों में दहशत है। 200 फ्लैट की इस कॉलोनी में मौजूदा समय में 54 परिवार रह रहे हैं। बीते डेढ़ महीने में यहां कोरोना से पांच लोगों की मौत हो चुकी है। सहमे हुए लोग फ्लैटों में कैद हैं और ऑनलाइन ही जरूरी उपयोग का सामान मंगा रहे हैं।

निगम की अनदेखी पर खरीद ली सैनिटाइजेशन मशीनें

क्लाउड 9 के निवासियों में जिला प्रशासन और नगर निगम की उदासीनता को लेकर जबरदस्त रोष है। रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन अध्यक्ष तथा जाने-माने पशु चिकित्सक डॉक्टर संदीप शर्मा कहते हैं कि इस तरह के अपार्टमेंट पर जिला प्रशासन और निगम को ध्यान देना चाहिए। इमारत के चौथे फ्लोर पर दो फ्लैट में तीन लोगों की कोरोना से मौत हो गई। अफसरों का अवगत कराया लेकिन कोई सुध नहीं ली गई। सैनिटाइजेशन और फागिंग के लिए कई बार निगम अधिकारियों से गुहार लगाई। फॉगिंग को तो टीम आई लेकिन कई दिन बाद। इसलिए आरडब्ल्यूए ने निवासियों के सहयोग से सैनिटाइजेशन की मशीन स्वयं खरीद ली और पदाधिकारी खुद ही अब सैनिटाइजेशन की कमान संभाले हैं। दिनभर बिल्डिंग में सैनिटाइजेशन किया जाता है। किसी भी निवासी के आग्रह पर विशेष रूप से वहां सैनिटाइजेशन कराते हैं।

लिफ्ट, गैलरी और पार्किंग में हर 2 घंटे में सैनिटाइजेशन

कॉलोनी निवासियों का कहना है कि लिफ्ट गैलरी और पार्किंग का प्रयोग सर्वाधिक होता है। ऐसे भी इन स्थानों से संक्रमण का खतरा बना रहता है। संक्रमण के कारण लोग खुद ही दूरी बनाए हुए हैं और अपने फ्लैट में ही समय बिता रहे हैं। इसके लिए विशेष तौर पर कर्मचारी की तैनाती की गई है। हर 2 घंटे में लिफ्ट, गैलरी और पार्किंग में सैनिटाइजेशन किया जाता है।

राजनेताओं के रसूख से है राहत

रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन पदाधिकारी बताते हैं कि सपा और बसपा के कद्दावर नेताओं के भी यहां फ्लैट हैं और वह यहीं निवास करते हैं। ऐसे में फागिंग या साफ-सफाई की जब भी जरूरत होती है तो उनसे कहते हैं उनके सियासी रसूख के बल पर काम हो जाता है। स्थानीय निवासी की गुहार अधिकारी तो छोड़िए कर्मचारी भी सुनने को तैयार नहीं होते।

तापमान चेक कर अपार्टमेंट में प्रवेश

कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते आरडब्लूए विशेष तौर पर सतर्क है। काम करने के लिए आने वाली महिलाओं व कर्मचारियों तथा आगंतुकों का तापमान चेक करके ही प्रवेश दिया जाता है। सभी कर्मियों को आते-जाते वक्त मास्क प्रोवाइड करा रहे हैं।

-डॉक्टर संदीप शर्मा, अध्यक्ष, आरडब्लूए क्लाउड 9

5 लोगों की हो चुकी है मौत

पांच लोगों की कोरोना से मृत्यु हो गई। 200 फ्लैट में से 54 में परिवार रह रहे हैं। सभी के मन में खौफ है। एक दूसरे से लोग फोन कर ही कुशलक्षेम पूछ रहे हैं।

-जयवीर त्यागी, वाइस प्रेसिडेंट, आरडब्लूए क्लाउड 9

खुद करा रहे हैं सैनिटाइजेशन

कोरोना के पैर पसारते ही नगर निगम से लगातार फागिंग सैनिटाइजेशन व सफाई के लिए गुहार लगाई मगर कुछ नहीं हुआ। खुद ही सैनिटाइजेशन की मशीन खरीदकर व्यवस्था बनाई है। हर आने जाने वाले को सैनिटाइज्ड किया जा रहा है।

-अरविंद त्यागी, सचिव, आरडब्लूए क्लाउड 9

नहीं निकलते फ्लैट से, फोन पर पूछ रहे हाल-चाल

कोरोना महामारी ने हर किसी को झकझोर दिया है। हर व्यक्ति के परिजन रिश्तेदार या जान पहचान वाला कोई न कोई कोरोना से जान गंवा चुका है। बिल्डिंग में सभी लोग फ्लैट में ही अधिकांश समय बिता रहे हैं। एक दूसरे का हालचाल फोन करके पूछ लेते हैं।

-भावना सिंह

संबंधित खबरें