Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मेरठपोतियों ने किया दादा की अंत्येष्टि कर्म में मंत्र पाठ

पोतियों ने किया दादा की अंत्येष्टि कर्म में मंत्र पाठ

हिन्दुस्तान टीम,मेरठNewswrap
Mon, 29 Nov 2021 03:05 AM
पोतियों ने किया दादा की अंत्येष्टि कर्म में मंत्र पाठ

सरधना। संवाददाता

सरधना के विख्यात आर्य भजनोपदेशक महाशय कर्ण सिंह कपसाड़ का शनिवार सुबह साढ़े चार बजे देहांत हो गया। 93 वर्षीय महाशय जी ने गांव और नगर में घूमकर आर्यसमाज का खूब प्रचार किया था। उनके निधन पर परिवार में गहरा शोक छा गया। उनकी पोतियों ने अपने दादा द्वारा दिए गए आर्यसमाज के सिद्धांतों की शिक्षा के अनुसार हर क्रियाएं की।

उन्होंने अंतिम यात्रा में दादा को कंधा दिया। अपने पिता के साथ मिलकर चिता को मुखाग्नि दी और वैदिक विधि विधान से कन्या गुरुकुल झिटकरी भामौरी प्रधानाचार्य आदेश शास्त्री के सान्निध्य में मंत्रपाठ करते हुए अंत्येष्टि कर्म संपन्न कराया। संपूर्ण अंत्येष्टि कर्म वैदिक विद्वान आचार्य देवपाल और डॉ. कपिल आचार्य की देखरेख में हुआ। इस दौरान गणमान्य लोग भी शामिल हुए।

epaper

संबंधित खबरें