Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मेरठमेरठ में बढ़ीं बेटियां लेकिन राष्ट्रीय औसत से कम

मेरठ में बढ़ीं बेटियां लेकिन राष्ट्रीय औसत से कम

हिन्दुस्तान टीम,मेरठNewswrap
Tue, 30 Nov 2021 03:06 AM
मेरठ में बढ़ीं बेटियां लेकिन राष्ट्रीय औसत से कम

देश में प्रति हजार पुरुषों पर महिलाओं की संख्या (लिंगानुपात) 1020 होने की सुखद तस्वीर जिलों में नहीं है। मेरठ-सहारनपुर मंडल के चार जिलों में महिलाओं की संख्या में बढ़ोतरी तो हुई है, लेकिन यह राष्ट्रीय औसत से नीचे है।

बुलंदशहर में एक हजार पुरुषों के मुकाबले महिलाओं की संख्या में गिरावट हुई है। यहां पांच साल में एक हजार पुरुषों पर 23 महिलाएं कम हो गईं। कुल जनसंख्या पर लिंगानुपात के मामले में गौतमबुद्धनगर एकमात्र ऐसा जिला हैं जहां एक हजार पुरुषों पर 53 महिलाएं बढ़ी हैं। 2015-16 में गौतमबुद्धनगर में महिलाओं की संख्या 844 थी जो 2020-21 में 897 दर्ज हुई। हालांकि यह एकमात्र ऐसा जिला भी है जहां जन्म के समय पांच साल में बच्चियों की संख्या में सर्वाधिक गिरावट हुई है। 2015-16 में गौतमबुद्धनगर में एक हजार लड़कों पर जन्मी बेटियों की संख्या 845 थी, जबकि 2020-21 में यह 735 रह गईं। यानी पांच वर्षों में प्रत्येक हजार लड़कों पर बेटियों के जन्म लेने में 110 की गिरावट हुई।

इन जिलों में हैं अच्छे संकेत

मेरठ। बागपत, मेरठ और सहारनपुर मंडल के ऐसे जिले हैं जहां भविष्य को लेकर सुखद संकेत मिल रहे हैं। इन जिलों में ना केवल प्रति हजार पुरुषों पर महिलाओं की संख्या में बढ़ोतरी दर्ज हुई है, बल्कि जन्म लेने वाले प्रति हजार लड़कों पर बेटियों की संख्या भी बढ़ी है। इसमें सहारनपुर जिले में जन्म के वक्त बेटियों की संख्या में प्रति हजार 116 की वृद्धि हुई है। गाजियाबाद, हापुड़ और शामली तीन जिले ऐसे हैं जिसमें एनएफएचएस-5 का रिकॉर्ड तो है जबकि 2015-16 के एनएफएचएच-4 का तुलनात्मक डाटा नहीं है।

गाजियाबाद, शामली इसलिए अच्छे

गाजियाबाद और शामली दो जिले ऐसे हैं जहां प्रति हजार लड़कों पर जन्म लेने वाली बेटियों की संख्या राष्ट्रीय औसत से बहुत आगे है। राष्ट्रीय औसत 929 बच्चियों का है, जबकि गाजियाबाद में यह 1182 और शामली में यह संख्या 1029 है। हालांकि प्रति हजार पुरुषों पर महिलाओं की संख्या के हिसाब से मेरठ-सहारनपुर के नौ जिलों में कोई भी राष्ट्रीय औसत या इससे ऊपर नहीं है। लिंगानुपात राष्ट्रीय स्तर पर प्रति हजार पुरुषों पर 1020 महिलाओं का है।

प्रति एक हजार पुरुषों पर महिलाएं

जिला 20-21 15-16

शामली 989 ----

सहारनपुर 984 954

बुलंदशहर 979 1002

मेरठ 967 930

मुजफ्फरनगर 957 ----

बागपत 938 899

गाजियाबाद 930 ----

हापुड़ 917 ---

गौतमबुद्धनगर 897 844

---------------------------------

---उपलब्ध नहीं। संख्या कुल जनसंख्या पर

पांच वर्षों में प्रति हजार जन्मीं बेटियां

जिला 20-21 15-16

गाजियाबाद 1182 ---

शामली 1029 ----

सहारनपुर 1022 906

मेरठ 926 858

मुजफ्फरनगर 865 ----

बुलंदशहर 841 886

बागपत 818 763

हापुड़ 785 ---

गौतमबुद्धनगर 735 845

epaper

संबंधित खबरें