DA Image
19 अक्तूबर, 2020|3:53|IST

अगली स्टोरी

गिरी गाज: 22 आउटसोर्सिंग सफाई कर्मचारियों की सेवा समाप्त, सुपरवाइजर निलंबित

default image

मेरठ। मुख्य संवाददाता

शहर की सफाई व्यवस्था को लेकर नगर निगम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए 22 आउटसोर्सिंग सफाई कर्मचारियों की सेवा समाप्त कर दी है। वहीं एक सुपरवाइजर को निलंबित कर दिया है। नौचंदी क्षेत्र के 52 सफाई कर्मचारियों का एक दिन का वेतन कटौती के आदेश के साथ कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। नगर आयुक्त डा.अरविन्द कुमार चौरसिया ने कहा है कि हर एक कर्मचारी को काम करना होगा। अब सफाई में कोई लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी।

नगर आयुक्त ने बताया कि विभिन्न स्तरों पर जांच में पाया गया कि 22 आउटसोर्सिंग कर्मचारी या तो ड्यूटी से गायब हैं या फिर वे काम पर नहीं आ रहे हैं। सफाई कार्य में लापरवाही बरती जा रही है। ऐसे में इन सभी 22 आउटसोर्सिंग सफाई कर्मचारियों की सेवा को तत्काल समाप्त करते हुए दोनों कंपनियों को कार्रवाई का आदेश दिया गया है। वहीं सहायक नगर आयुक्त इंद्रविजय कुमार की रिपोर्ट के आधार पर वार्ड-67‌ (कैलाशपुरी) के 52 कर्मचारियों को सफाई कार्य में लापरवाह माना गया। इन सभी का एक दिन का वेतन काटने के आदेश के साथ ही कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। साथ ही इस क्षेत्र के सुपरवाइजर सचिन को निलंबित कर विभागीय जांच बैठा दी गई है। सहायक नगर आयुक्त ब्रजपाल सिंह को जांच करेंगे। सफाई व्यवस्था में अब लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस बात को कर्मचारियों को नोट करना होगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Giri Ghaz 22 outsourcing sanitation workers terminated supervisor suspended