DA Image
23 नवंबर, 2020|3:15|IST

अगली स्टोरी

वैदिक संस्कृति की पोषक है गौमाता : बीडीओ

वैदिक संस्कृति की पोषक है गौमाता : बीडीओ

हस्तिनापुर। संवाददाता

मालीपुर गोशाला में रविवार को गोपाष्टमी पर्व धूमधाम से मनाया गया। लोगों ने गोशाला पहुंचकर विधि-विधान से हवन-पूजन किया और फूलमाला पहनाकर तथा तिलक लगाकर गोवंश का पूजन किया। बीडीओ ने गोवंश की महत्ता पर प्रकाश डाला।

गोपाष्टमी के अवसर पर मालीपुर गोशाला में आयोजित हवन में बीडीओ शैलेंद्र सिंह, ग्राम प्रधान, ग्राम सचिव और अन्य लोगों ने पहुंचकर हवन में आहुति दी। इसके बाद गाय और बछड़े को माला पहनाकर तथा तिलक लगाया। बीडीओ शैलेंद्र सिंह ने कहा कि गाय हमारी वैदिक संस्कृति की पोषक है। भगवान कृष्ण ने ही गोवंश की असीम सेवा कर वैदिक संस्कृति की रक्षा करने का काम किया था इसलिए हम सभी का दायित्व बनता है कि गाय की पूजा-अर्चना के साथ उसको बचाने का भी प्रयास करें। इस अवसर पर राजकुमार, मुनेंद्र सिंह, मांगेराम, राजेंद्र, नरेंद्र, आजादपाल, रतनपाल, नितेश, प्रदीप आदि रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Gaumata is the nutrient of Vedic culture BDO