DA Image
27 अक्तूबर, 2020|12:51|IST

अगली स्टोरी

गैंगरेप पीड़िता को कराया मेडिकल इमरजेंसी में भर्ती

default image

मेरठ। वरिस्ठ संवाददाता

मेरठ में छह दिन पहले गैंगरेप की शिकार हुई महिला को राजनीतिक संगठनों ने बुधवार को मेडिकल इमरजेंसी में भर्ती कराया है। पीड़िता अभी अपने उस बयान पर कायम है, जिसमें चलती रोडवेज बस में गैंगरेप होने की बात कही गई है।

25 सितंबर को सरधना क्षेत्र निवासी महिला कानपुर जाने के लिए भैंसाली डिपो से रोडवेज बस में बैठी। महिला का आरोप है कि बस मालिक और कंडक्टर ने उसको नशीली कोल्डड्रिंक दी और रेप किया। 26 सितंबर की तड़के दोनों आरोपी उसे मेवला फ्लाईओवर के नजदीक फेंककर फरार हो गए। पुलिस इस मामले में मुख्य आरोपी सुनील व अरविंद को जेल भेज चुकी है। पीड़िता का एक दिन इलाज जिला अस्पताल में चला। 25 सितंबर की शाम को ही उसे डिस्चार्ज कर घर भेज दिया।

आम आदमी पार्टी के जिलाध्यक्ष ओपी संत, जिला महासचिव अभिषेक द्विवेदी, आजाद समाज पार्टी के हापुड़ प्रवक्ता देवेंद्र हूण ने गैंगरेप पीड़िता को बुधवार को मेडिकल इमरजेंसी में भर्ती कराया। देवेंद्र हूण ने बताया कि महिला पूरी तरह स्वस्थ नहीं है। उसे अभी इलाज की जरूरत है। महिला ने उन्हें बताया है कि रोडवेज बस में रेप हुआ था। घटना के छह दिन बाद भी उसके 164 के बयान दर्ज नहीं हो पाए हैं। आरोप है कि पुलिस पीड़िता पर केस में ज्यादा रुचि न लेने का दबाव बना रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Gang rape victim admitted to medical emergency