DA Image
22 अक्तूबर, 2020|1:15|IST

अगली स्टोरी

रैपिड के लिए चाहिए भैसाली बस अड्डे और कृषि विश्वविद्यालय की जमीन

रैपिड के लिए चाहिए भैसाली बस अड्डे और कृषि विश्वविद्यालय की जमीन

दिल्ली-मेरठ रैपिड रेल के लिए मेरठ में एनसीआरटीसी को भैसाली बस अड्डा, कृषि विश्वविद्यालय और दौराला में डिपो निर्माण के लिए जमीन चाहिए। करीब एक साल से यह मामला लंबित है। बुधवार को मुख्य सचिव के स्तर पर होने वाली बैठक में इन मामलों पर विचार-विमर्श होगा। मुख्य सचिव स्तर पर करीब चार महीने के बाद बैठक हो रही है।

मुख्य सचिव के स्तर पर बुधवार को एनसीआरटीसी, शासन,प्रशासन के अधिकारियों की बैठक होगी। बैठक में एनसीआरटीसी की ओर से जमीन के मामले को प्रमुखता से रखा जाएगा। मेरठ और गाजियाबाद जिले में रैपिड के कार्य के लिए एनसीआरटीसी को मेरठ में भैसाली बस अड्डा, कृषि विश्वविद्यालय, दौराला में डिपो के लिए जमीन चाहिए। भैसाली बस डिपो की जमीन को लेकर सहमति दी जा चुकी है। भैसाली बस अड्डे की 4246 वर्ग मीटर जमीन अस्थायी तौर पर तीन से चार साल के लिए चाहिए। परिवहन विभाग में मामला लंबित है। इसी तरह सरकारी जमीन का मामला राजस्व विभाग के स्तर पर विचाराधीन बताया गया है। दौराला में डिपो की जमीन में 3.09 हेक्टेयर सरकारी जमीन का प्रस्ताव भी शासन स्तर पर विचाराधीन है। गाजियाबाद जिले में भी गुलधर स्टेशन, साहिबाबाद में भेल की जमीन प्रस्तावित है। इन सभी बिन्दुओं पर मुख्य सचिव के स्तर पर विचार-विमर्श होगा। इसके आधार पर गाइडलाइन जारी किया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:For the rapid the land of the Bhaisali bus station and the University of Agriculture