ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मेरठनकली फूड सप्लीमेंट ने ली जिम ट्रेनर की जान

नकली फूड सप्लीमेंट ने ली जिम ट्रेनर की जान

मेडिकल थाना क्षेत्र निवासी एक जिम ट्रेनर की नकली फूड सप्लीमेंट ने जान ले ली। पेट में दर्द के चलते जिम ट्रेनर को अस्पताल में भर्ती कराया गया...

नकली फूड सप्लीमेंट ने ली जिम ट्रेनर की जान
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,मेरठSun, 11 Sep 2022 02:00 AM
ऐप पर पढ़ें

मेरठ। मेडिकल थाना क्षेत्र निवासी एक जिम ट्रेनर की नकली फूड सप्लीमेंट ने जान ले ली। पेट में दर्द के चलते जिम ट्रेनर को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। परिवार ने बेहतर उपचार के लिए कई अस्पताल बदले। एक माह तक जिम ट्रेनर मौत से लड़ता रहा, लेकिन सात सितंबर को जिंदगी ने उनका साथ छोड़ दिया। जिम ट्रेनर की मौत के बाद परिवार में कोहराम मचा है। दिल दहला देने वाले इस मामले ने एक बार फिर नकली सप्लीमेंट फूड के अवैध कारोबार पर सवाल खड़े किए हैं।

राजनगर कॉलोनी गली नंबर दो में जिम ट्रेनर संजीव धामा (36) अपने परिवार के साथ रहते थे। परिवार में पत्नी आराधना व दो बेटियों नीति, विधि के अलावा बुजुर्ग पिता भोपाल सिंह और मां रीना हैं। परिजनों के अनुसार, 13 अगस्त की शाम संजीव धामा के पेट में दर्द हुआ। रात में ही परिजन संजीव को लेकर मेडिकल कॉलेज की इमरजेंसी में आ गए। आराम न होता देख परिवार ने सुबह निजी डाक्टर को दिखाने का निर्णय लिया। सुबह होते होते संजीव की हालत बिगड़ने लगी और परिजनों ने उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया। इसके बाद वह दो और अस्पतालों में भर्ती रहे लेकिन आराम न लगता देख परिजन उन्हें एम्स ले गए। छह सितंबर को संजीव धामा को गंभीर हालत में वहां भर्ती कराया गया। सात सितंबर को उनकी मौत हो गई। संजीव पर उनका पूरा परिवार निर्भर था। उनकी मौत से परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है।

epaper