DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › मेरठ › ऐतिहासिक स्थलों के संरक्षण और विकास पर की चर्चा
मेरठ

ऐतिहासिक स्थलों के संरक्षण और विकास पर की चर्चा

हिन्दुस्तान टीम,मेरठPublished By: Newswrap
Thu, 13 Feb 2020 01:59 AM
ऐतिहासिक स्थलों के संरक्षण और विकास पर की चर्चा

अखिल विद्या समिति के तत्वावधान में जयंती माता शक्तिपीठ मंदिर के प्रांगण में मंदिरों के महंत और समितियों के पदाधिकारियों की बैठक आयोजित की गई। जिसमें ऐतिहासिक स्थलों के संरक्षण एवं विकास के बारे में विस्तृत चर्चा की गई और एक टीम का गठन किया गया। बैठक में उपस्थित सभी लोगों ने ऐतिहासिक स्थलों के संरक्षण के लिए पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया।

समिति अध्यक्ष विष्णु अवतार रुहेला ने बताया कि प्राचीन ऐतिहासिक स्थलों के संरक्षण के लिए सामाजिक लोगों का सहयोग बहुत जरूरी है। अखिल विद्या समिति व मेरठ परीक्षितगढ़ मोटर यूनियन के सहयोग से विशेष पर्यटन यात्रा बस जल्द से शुरु की जाएगी जो मेरठ से परीक्षितगढ़, हस्तिनापुर, सैफपुर, फिरोजपुर आदि ऐतिहासिक स्थलों की यात्रा कराएगी। इसके लिए टूरिस्ट गाइड आदि की व्यवस्था होगी। यात्रा के लिए ऐतिहासिक स्थलों की पर्यटन बुकलेट तैयार की जाएगी और प्रचार प्रसार के लिए मुख्य स्थलों पर पर्यटन स्थलों के होर्डिंग्स लगाए जाएंगे। लोकतंत्र सेनानी कल्याण समिति के संयोजक व जय हस्तिनापुर अभियान के अध्यक्ष धीरेंद्र नाथ श्रीवास्तव ने कहा कि 15 फरवरी को लोकतंत्र सेनानी कल्याण समिति द्वारा आभार मार्च आयोजित किया जाएगा जिसमें हस्तिनापुर के विकास के लिए केंद्र सरकार द्वारा उठाए गए कदम का आभार जताया जाएगा। संचालन नरेंद्र शर्मा ने किया। इस मौके पर चेयरमैन अरूण कुमार, जयंती माता शक्तिपीठ के अध्यक्ष सुदेश गुर्जर, कर्ण मंदिर के महंत शंकर देव, विश्वशांति महायज्ञ मंदिर रघुनाथ महल के संयोजक वेद प्रकाश रमन, महंत भीष्म रमन स्वामी, पांडेश्वर मंदिर के महंत अमन गिरी महाराज, पं सूर्यकांत शास्त्री, सोमनाथ पपनेजा, रामपाल, हरिओम शर्मा, बेगवती गोसाई, मुकेश शर्मा, अनिल त्यागी आदि रहे।

इस आर्टिकल को शेयर करें
लाइव हिन्दुस्तान टेलीग्राम पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

सब्सक्राइब
अपडेट रहें हिंदुस्तान ऐप के साथ ऐप डाउनलोड करें

संबंधित खबरें