DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेरठ में दो करोड़ ठगने वाला मुरादाबाद से लूट में गया जेल / मुरादाबाद महत्वपूर्ण

मेरठ में मोतियों की माला बनवाने के नाम पर दो करोड़ रुपये की ठगने के आरोप में फरार चल रहे राज चौधरी ने मुरादाबाद की अदालत में सरेंडर कर दिया। वह लूट के एक मामले में सालभर से वांटेड था। मेरठ पुलिस जब मुरादाबाद पहुंची तो आरोपी के सरेंडर करने की जानकारी हुई। इसके बाद पुलिस ने एक बैंक कर्मचारी के घर से उस कार को बरामद किया जो राज चौधरी ने एक व्यक्ति से ऐंठी थी।

नौचंदी पुलिस और साइबर क्राइम सेल ने पिछले दिनों एपेक्स इंटरनेशनल कंपनी के कथित जीएम संजय गुप्ता उर्फ राजेंद्र प्रसाद शर्मा निवासी ब्रजविहार गाजियाबाद को गिरफ्तार किया था। जबकि दूसरा अभियुक्त राहुल वर्मा उर्फ राज चौधरी निवासी ग्राम पहाड़पुर, थाना बिलारी मुरादाबाद फरार है। दोनों अभियुक्तों पर फर्जी कंपनी खोलकर मोतियों की माला बनवाने के नाम पर करोड़ों की ठगी का आरोप है। दूसरे अभियुक्त राज चौधरी को गिरफ्तारी के लिए नौचंदी पुलिस और साइबर सेल की टीम मुरादाबाद पहुंची। पुलिस ने ग्राम पहाड़पुर में राज चौधरी के आवास पर दबिश दी, मगर वह मौजूद नहीं मिला। इसके बाद पुलिस ने राज की पत्नी के मोबाइल को सर्विलांस पर लगाया। लोकेशन के आधार पर पुलिस मुरादाबाद की मानसरोवर कॉलोनी में एक बैंक कर्मचारी के मकान पर पहुंची। दबिश दी। यहां पुलिस को राज चौधरी की पत्नी मौजूद मिली। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। इसी मकान में वो स्विफ्ट डिजायर खड़ी मिल गई, जो राज चौधरी ने मेरठ के एक व्यक्ति से सामान डिलीवर करने के बहाने ऐंठ ली थी। नौचंदी थाने के सब इंस्पेक्टर लोकेश चहल ने बताया कि अभियुक्त राज चौधरी ने 29 मई को ही 16 लाख रुपये की लूट के मामले में मुरादाबाद अदालत में सरेंडर किया है। यह लूट वर्ष 2017 में मुरादाबाद के मैनाठेर थाना क्षेत्र में हुई थी। आईपीसी की धारा 392 में राज चौधरी ने 21 जून 2017 को ही सरेंडर कर दिया था। अब धारा 120बी के रिमांड में वह जेल गया है। कुल मिलाकर मेरठ पुलिस हाथ मलती रह गई और दो करोड़ की ठगी का आरोपी अदालत में सरेंडर करके जेल चला गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:crime news