DA Image
24 अक्तूबर, 2020|11:49|IST

अगली स्टोरी

मेरठ में कोरोना संक्रमित केस 1000 पार

मेरठ में कोरोना संक्रमित केस 1000 पार

अमरावती के क्राकरी कारोबारी से मेरठ में शुरू हुए कोरोना पॉजिटिव केस की संख्या मंगलवार को एक हजार पार कर गई। मंगलवार को 34 नए केस आए। एक मरीज की मेडिकल में मौत हो गई। इस प्रकार कुल पॉजिटिव केस 1001 और कुल मौत 70 हो गई हैं। कोरोना को काबू करने के लिए दो जुलाई से मेरठ में डोर-टू-डोर सैंपलिंग की योजना है।

रिपोर्ट के अनुसार, मवाना नगर पालिका के चार कर्मचारी कोरोना संक्रमित मिले हैं। चारों मोहल्ला कल्याण सिंह और मोहल्ला मुन्नालाल के रहने वाले हैं। जागृति विहार सेक्टर-6, नंगला जैनपुर, राधा गार्डन मवाना और मेहंदी मोहल्ला कंकरखेड़ा से चार बैंककर्मी भी पॉजिटिव आए हैं। हस्तिनापुर, औरंगशाहपुर डिग्गी मेडिकल, जागृति विहार सेक्टर-8 से तीन छात्रों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिली है। बेगमबाग स्थित शिवकुंज चकबंदी रोड, औरंगशाहपुर डिग्गी और नंगली किठौर गांव से चार गृहणियां पॉजिटिव पाई गई हैं। मंगलपांडे नगर और जागृति विहार सेक्टर-6 से दो महिला आईटी इंजीनियर, परतापुर के काशी गांव से गर्भवती महिला, थापरनगर से मेडिकल स्टोर संचालक, मेडिकल कॉलज से स्टाफ नर्स, हस्तिनापुर से बिजनेसमैन, शास्त्रीनगर के ब्लॉक से हेल्थ केयर वर्कर सहित जनरल स्टोर संचालक और स्कूल कर्मचारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

नारी निकेतन में किशोरी पॉजिटिव

कानपुर के बाद मेरठ के नारी निकेतन में कोरोना संक्रमण का मामला सामने आया है। लालकुर्ती क्षेत्र स्थित नारी निकेतन में रह रही 15 वर्षीय किशोरी कोरोना पॉजिटिव पाई गई है। नारी निकेतन में संक्रमण का यह पहला मामला है। यहां पर 117 संवासिनी रह रही हैं। 22 के सैंपल जांच को भेजे गए थे। इसमें एक पॉजिटिव और बाकी निगेटिव आए हैं। इससे अधिकारियों में हड़कंप मचा है।

तीन बार निगेटिव, चौथी बार पॉजिटिव

मेडिकल कॉलेज में कार्यरत स्टाफ नर्स भी कोरोना संक्रमित मिली है। पांच जून तक उन्होंने मेडिकल कैंपस के क्वारंटाइन सेंटर में डयूटी की। 15 जून को बुखार आ गया। 19, 26 और 28 जून को मेडिकल में कोविड जांच कराई। तीनों बार रिपोर्ट निगेटिव आई। मंगलवार को स्टाफ नर्स ने दौराला क्षेत्र में एंटीजन किट से जांच कराई। उसमें रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। इसके बाद हड़कंप मच गया। स्टाफ नर्स के साथी कर्मचारियों को होम क्वारंटाइन कर दिया गया है। स्टाफ नर्स ने मेडिकल लैब पर आरोप लगाए हैं। कहा है कि उनमें पहले से कोरोना के लक्षण थे, लेकिन बार-बार रिपोर्ट निगेटिव बताई जाती रही। जैसे ही मेडिकल के बाहर जांच कराई तो रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई।

मदरसे का मास्टर कोरोना पॉजिटिव

फलावदा। थाना क्षेत्र के गांव अमरोली उर्फ बड़ागांव स्थित 30 वर्षीय युवक मदरसे में छात्रों को पढ़ाता है। उसे पिछले कई दिनों से बुखार था। उसने अपना इलाज मवाना के एक प्राइवेट डॉक्टर के यहां कराया तो डॉक्टर ने उसकी करोनो जांच कराई। मास्टर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मवाना स्वास्थ्य विभाग एवं पुलिस ने पूरे मोहल्ले को सील कर दिया है।

हस्तिनापुर में दो केस आए

हस्तिनापुर। मंगलवार को कस्बे की जे-ब्लाक कॉलोनी में दो लोगों के कोरोना पाजिटिव मिलने से हड़कंप मच गया। कोरोना पाजिटिव चाचा भतीजे को मुलायम सिंह मेडिकल कालेज खरखौदा भेजा गया। जबकि परिजनों को होम क्वारंटाइन किया गया है। कोरोना पाजिटिव युवक दुकान करता है। जिससे पूरी कालोनी में हड़कंप मच गया है। हालांकि बताया जा रहा है कि पिछले कई दिनों से उसकी दुकान बंद थी। कोरोना पाजिटिव में भतीजे की उम्र 17 वर्ष व चाचा 41 वर्षीय है। वहीं सोमवार को कस्बे की सिविल लाइन कॉलोनी में मिले कोरोना पाजिटिव मरीज के परिजनों की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है।

एंटीजन किट से तीन मिनट में मिली रिपोर्ट

दौराला। दौराला सीएचसी पर रैपिड एंटीजन किट से कोविड टेस्ट मंगलवार से शुरू कर दिए गए। सीएचसी प्रभारी डा. प्रशांत कुमार ने बताया कि मंगलवार को 11 लोगों के सैंपल लिए गए। मेडिकल में तैनात स्टाफ नर्स और राधा गोविंद नगर मेरठ निवासी बैंक कर्मचारी पॉजीटिव आया है। नौ लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। सीएचसी पर प्रतिदिन 20 जांच एंटीजन किट से की जाएंगी। पॉजिटिव आई नर्स सीएचसी पर तैनात एक स्वास्थ्य कर्मचारी की रिश्तेदार है। वह अपने रिश्तेदार के मकान पर रुकी हुई थी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Corona infected case crosses 1000 in Meerut