DA Image
25 जनवरी, 2021|11:46|IST

अगली स्टोरी

गूगल की मदद से छह साल बाद परिजनों से मिला बच्चा

default image

मेरठ/सरूरपुर। वरिष्ठ संवाददाता

मध्यप्रदेश से छह साल से लापता 13 साल के अरविंद को यूपी की मेरठ पुलिस ने गूगल की मदद से परिजनों से मिलवा दिया। मप्र पुलिस गुरुवार को मेरठ आकर किशोर को ले गई।

सरूरपुर थाने के इंस्पेक्टर अरविंद कुमार के अनुसार, बुधवार को फटे कपड़े पहने 13 साल का अरविंद कस्बा खिवाई पुलिस चौकी पर आया। पुलिस ने उससे पूछताछ की। उसने अपना नाम अरविंद बताया। अरविंद के अनुसार, छह साल पहले एक ठेकेदार बहला-फुसलाकर उसे मुजफ्फरनगर ले आया। यहां घर में बंधक बनाकर मजदूरी कराई गई। 20 दिन पहले वह किसी तरह भाग निकला। मुजफ्फरनगर से वह मेरठ के सरूरपुर क्षेत्र में आ गया।

अरविंद ने अपने माता-पिता और गांव का नाम (आजमानी-मप्र) बताया। इसके अतिरिक्त उसे कोई जानकारी नहीं थी। पुलिस ने गूगल की मदद से आजमानी गांव का नाम सर्च किया। इसके जरिये पुलिस मप्र में इस गांव के पुलिस स्टेशन तक पहुंची। मेरठ पुलिस ने मप्र के उमरिया पुलिस स्टेशन में फोन करके अरविंद के बारे में बताया।

पिता ने दर्ज कराई थी गुमशुदगी की रिपोर्ट

मप्र पुलिस ने डेटा सर्च किया तो पिता मुनारे यादव द्वारा अरविंद की 2018 में गुमशुदगी दर्ज कराई मिली। दोनों राज्यों की पुलिस ने अरविंद के फोटो का आदान-प्रदान करते हुए पहचान की। गुरुवार को मप्र पुलिस थाना सरूरपुर आई और बच्चे को ले गई। छह साल बाद खोये बच्चे को सकुशल पाकर परिजनों की आंख में आंसू आ गए। परिजन उसे पाने की उम्मीद खो चुके थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Child met family after six years with the help of Google