DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एलएलबी, एमबीबीएस की कॉपियों छेड़छाड़, बैठी जांच

चौ.चरण सिंह यूनिवर्सिटी ने स्क्रूटनी के बाद एलएलबी, एलएलएम और एमबीबीएस की कॉपियों में हुई छेड़छाड़ पर जांच बैठा दी है। समिति 15 दिनों में मामले की जांच करते हुए रिपोर्ट देगी। बीपीटी की कॉपियों में दो तरह की हेंडराइटिंग की भी विवि जांच कराएगा। परीक्षक द्वारा अभद्रता करने पर भी विवि ने जांच कराने का फैसला लिया है।

कुलपति प्रो.एनके तनेजा की अध्यक्षता में हुई बैठक में उक्त फैसला हुआ। विवि में बीपीटी पेपर कोड 304 की दो कॉपियों में हेंडराइटिंग अलग-अलग मिली थी। एक ही छात्र की कॉपी में दो तरह की राइटिंग मिलने से केंद्र पर किसी दूसरे छात्र द्वारा कॉपी लिखने का संदेह हुआ। विवि ने इस मामले को नकल की श्रेणी में दर्ज करे हुए डीन लॉ और डीन कृषि की समिति बनाते हुए जांच करने के आदेश दिए। इसी तरह एलएलबी, एलएलएम और एमबीबीएस की नौ कॉपियों में स्क्रूटनी के बाद छेड़छाड़ पकड़ी गई है।

इन कॉपियों में स्क्रूटनी में नंबर नहीं बढ़े थे, लेकिन बाद में कॉपियों में नंबर बढ़ा दिए गए। इसमें दस को 16 या फिर 26 कर दिया गया। विवि ने मामले की गंभीरता देखते हुए डीन विधि एवं डीन एजुकेशन की समिति बनाते हुए 15 दिन में रिपोर्ट देने को कहा। वहीं, सम्राट पृथ्वीराज डिग्री कॉलेज बागपत में श्रीराम कॉलेज मुजफ्फरनगर के परीक्षक डॉ.धर्मेंद्र कुमार द्वारा परीक्षा की गोपनीयता भंग करने और अनुचित तरीके से रुपये लेने के आरोपों की जांच को भी कमेटी बना दी है। डीन कॉमर्स और डीन इंजीनियरिंग इस मामले की जांच करेंगे। बैठक में प्रोवीसी प्रो.वाई विमला, प्रो.जितेंद्र ढाका, डॉ.राजेश कुमार गर्ग, प्रो.जगवीर भारद्वाज, प्रो.सुधीर कुमार, रजिस्ट्रार धीरेंद्र कुमार, परीक्षा नियंत्रक अश्विनी कुमार एवं प्रेस प्रवक्ता डॉ.प्रशांत कुमार मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:chaudhary charan singh university in meerut