DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैंट बोर्ड मीटिंग उलझी सियासत में, शह मात तेज

मंगलवार को होने वाली कैंट बोर्ड मीटिंग में चुने हुए सात बोर्ड सदस्य नहीं पहुंचे जिसके चलते पश्चिमी यूपी सब एरिया कमांडर ने बोर्ड मीटिंग टाल दी। नए सब एरिया कमांडर और सीईओ के शपथ ग्रहण के बाद मीटिंग कोरम पूरा न होने के चलते टाल दी गई। अब बुधवार सुबह नौ बजे से यह मीटिंग शुरू होगी।

मंगलवार को कैंट बोर्ड की सामान्य मीटिंग के लिए 11बजे का समय रखा गया था। इस मीटिंग का एजेंडा सभी बोर्ड सदस्यों को भेज दिया गया था। एजेंडे में अवैध निर्माण के मामलों में कार्रवाई और आबूलेन की ट्रैफिक व्यवस्था को दुरुस्त करने संबंधी मामलों को रखा गया था। साथ ही पावर कारपोरेशन के साथ ट्रांसफार्मरों को लेकर चले आ रहे विवाद के मामले में कोर्ट के फैसले को भी नोटिंग के लिए शामिल किया गया। कैंट क्षेत्र के सिनेमाघरों में शो टैक्स 20 रुपये प्रति शो से बढ़ाकर 100 रुपये प्रति शो करने, कैंट बोर्ड अस्पताल को सेंट्रल स्टोर से दवा सप्लाई, कैंट क्षेत्र में करीब सवा करोड़ रुपये की लागत से सड़कों के निर्माण एवं अन्य अहम मसलों से संबंधित मुद्दे भी एजेंडे में रखे गए थे।। नए सब एरिया कमांडर मेजर जनरल पीएस सांई बतौर कैंट बोर्ड अध्यक्ष और सीईओ प्रसाद चव्हाण की बतौर सीईओ यह पहली मीटिंग थी इसलिए इनके शपथ ग्रहण का कार्यक्रम भी रखा गया था। सुबह11बजे कमांडर और सीईओ मीटिंग में पहुंच गए। एडम कमांडेंट कर्नल रोहित पंत, कर्नल अमरवीर, मेजर बरार और चुनी हुई बोर्ड सदस्य मंजू गोयल भी पहुंच गईं, लेकिन बोर्ड उपाध्यक्ष बीना वाधवा,विपिन सोढ़ी, धर्मेन्द्र सोनकर,अनिल जैन, नीरज राठौर, बुशरा कमाल, और रिनी जैन मीटिंग में नहीं पहुंची। इस वजह से मीटिंग का कोरम पूरा नहीं हो सका। काफी देर इंतजार के बाद कमांडर मेजर जनरल पीएस सांई ने मीटिंग बुधवार सुबह नौ बजे तक के लिए टाल दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:cantt board news