boys aheed in LlB, Girls in LlM - एलएलबी में लड़के, एलएलएम में लड़कियां आगे DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एलएलबी में लड़के, एलएलएम में लड़कियां आगे

मेरठ-सहारनपुर मंडल में लॉ कॉलेजों में कानून की पढ़ाई में यूजी कोर्स में लड़के और पीजी कोर्स में लड़कियां आगे हैं। बीए-एलएलबी और एलएलबी में लड़के लड़कियों से आगे हैं जबकि एलएलएम में लड़कियों ने लड़कों को पीछे छोड़ दिया। एलएलएम कोर्स के बाद अधिकांश छात्राओं का एमएनसी में अच्छी नौकरी करने का है। हालांकि एलएलएम को छोड़ बाकी दोनों ही कोर्स में सीटें खाली हैं। गुरुवार को यूनिवर्सिटी ने एडेड कॉलेजों में रिक्त सीटों पर ओपन मेरिट भेज दी। लेकिन एडेड और सेल्फ फाइनेंस कॉलेजों में प्रवेश की जो स्थिति है उसमें यूजी और पीजी कोर्स में तस्वीर उलट है। बीए-एलएलबी और एलएलबी में अभी तक सीटें नहीं भर सकी हैं। यूनिवर्सिटी के अनुसार एलएलबी में 12140 सीटों पर गुरुवार तक मात्र 9504 प्रवेश हुए हैं। एडेड कॉलेजों में प्रवेश को छात्रों की लंबी लाइन है, लेकिन प्रोफेशनल कॉलेजों में छात्र नहीं पहुंच रहे। इसी तरह बीए-एलएलबी में 6680 सीटों पर केवल 3997 प्रवेश हुए हैं। यानी इन दोनों ही कोर्स में सीटें खाली हैं। वहीं इन दोनों ही कोर्स में प्रवेश लेने वालों में छात्र आगे हैं। बीए-एलएलबी में 3880 छात्रों ने प्रवेश लिए हैं जबकि 1117 छात्राओं ने। एलएलबी में प्रवेश लेने वालों में 6922 छात्र और 2582 छात्राएं हैं। वहीं, एलएलएम की स्थिति दूसरी है। एलएलएम में प्रवेश लेने को गुरुवार तक करीब 650 स्टूडेंट ने रिपोर्ट किया और इसमें से 80 फीसदी छात्राएं थी। काउंसिलिंग के बाद तीन सौ सीटों पर प्रवेश पाने में भी 70 फीसदी छात्राएं हैं। एलएलएम काउंसिलिंग में सीटें फुल, छात्र घर लौटे गुरुवार को एलएलएम काउंसिलिंग में छात्रों को निराशा हाथ लगी। बुधवार रात 11 बजे तक जारी काउंसिलिंग में सभी छह कॉलेजों में सामान्य वर्ग की सीटें भर गईं। गुरुवार को केवल एससी-एसटी वर्ग की सीटों के लिए काउंसिलिंग हुई। चूंकि यूनिवर्सिटी ने 20 से कम नंबर वाले छात्रों को भी बुलाया था ऐसे में काउंसिलिंग में अधिकांश छात्र पहुंचे, लेकिन सामान्य वर्ग की सीटें भरने से अधिकांश छात्रों को वापस लौटना पड़ा। एससी-एसटी में भी जितने छात्र पहुंचे उन्हें प्रवेश नहीं मिल सके। हालांकि यूनिवर्सिटी ने प्रवेश के बाद छात्रों की वेटिंग लिस्ट भी तैयार की है। यदि छात्र प्रवेश नहीं लेते और सीटें रिक्त रहती हैं तो वेटिंग लिस्ट से छात्रों को मौका दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:boys aheed in LlB, Girls in LlM