DA Image
23 जनवरी, 2020|7:33|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्‍य परीक्षा के साथ बैक पेपर के फॉर्म ऑनलाइन

सितंबर-2019 में हुई बैक परीक्षा में शामिल नहीं होने वाले छात्र-छात्राओं को चौ.चरण सिंह विवि ने मार्च-2020 की मुख्‍य परीक्षा के साथ फॉर्म भरते हुए पेपर देने की छूट दे दी है। जो छात्र किन्‍हीं कारणों से बैक परीक्षा के फॉर्म नहीं भर सके थे अथवा फॉर्म भरने के बाद पेपर में शामिल नहीं हो सके, वे सभी मुख्‍य परीक्षा के फॉर्म के साथ अपने बैक के फॉर्म भर सकते हैं। जो छात्र बैक में शामिल हो चुके हैं उन्‍हें इस छूट का फायदा नहीं मिलेगा। ये सुविधा केवल मुख्‍य परीक्षा 2019 के छात्र-छात्राओं के लिए ही है।

विवि के अनुसार मुख्‍य परीक्षा-2019 की बैक परीक्षा सितंबर-2019 में कराई गई थी। लेकिन हजारों स्‍टूडेंट ऐसे हैं जो बैक के फॉर्म नहीं भर सके थे। अनेक छात्र ऐसे भी हैं जिन्‍होंने फॉर्म तो भर दिया, लेकिन वे किसी भी कोड के पेपर नहीं दे सके। चूंकि इन छात्रों का बैक है और ये अगली कक्षा में प्रवेश के लिए भी अर्ह हैं, ऐसे में बैक पेपर छूटने से इन छात्रों का एक साल खराब होने की आशंका थी। इसी क्रम में विवि ने छात्रों के कॅरियर को देखते हुए बैक परीक्षा-2019 में फॉर्म नहीं भरने वाले अथवा फॉर्म भरने के बाद किसी भी पेपर में शामिल नहीं होने वाले स्‍टूडेंट को मुख्‍य परीक्षा-2020 के साथ शामिल होने की अनुमति दे दी है। विवि के अनुसार ऐसे छात्र मुख्‍य परीक्षा के फॉर्मों के साथ ही अपना बैक का फॉर्म भी भर दें। विवि के अनुसार बैक परीक्षा के फॉर्म ऑनलाइन कर दिए गए हैं। स्‍टूडेंट 27 जनवरी तक www.ccsuweb.in पर अपने बैक परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन भर सकते हैं। भरे हुए फॉर्म 29 जनवरी तक कॉलेजों में जमा होंगे और 31 जनवरी तक कॉलेज ये फॉर्म कैंपस के परीक्षा विभाग में जमा कराएंगे। विवि के इस फैसले से उक्‍त दोनों मंडलों में दस हजार से अधिक स्‍टूडेंट को फायदा होगा।