DA Image
5 अगस्त, 2020|12:14|IST

अगली स्टोरी

अपील: घरों में अदा करें ईद की नजाम, पर्दे में कुर्बानी

default image

कोरोना महामारी के चलते लोगों को बकराईद की नमाज भी अपने घरों में ही अदा करनी होगी। ईदगाह में सामूहिक रूप से नमाज अदा करने की इजाजत शासन ने नहीं दी है। उधर, उलेमाओं ने भी सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन का पालन कर त्योहार मनाने की लोगों से अपील की है। उन्होंने कहा कि घरों में ही ईद की नमाज अदा करें। इसके अलावा अल्लाह की रजा के लिए की जाने वाली कुर्बानी को परदे में करें। प्रतिबंधित पुशओं की कुर्बानी बिलकुल न करें वह कतई जाइज नहीं है।

शुक्रवार को मस्जिदों में जुमे की नमाज के दौरान उलेमाओं ने अपनी तकरीर में इसका जिक्र किया। हालांकि मस्जिदों में केवल पांच ही लोगों ने नमाज अदा की, लेकिन उलेमाओं ने उन्हीं के माध्यम से अन्य लोगों तक अपनी संदेश भेजा। सरधना के शहरकाजी मौलाना शुएब ने लोगों से ईद की तरह बकराई की नमाज भी अपने-अपने घरों में ही अदा करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि जिस देश या प्रदेश में हम रह रहे हैं वहां का कानून मानना हमारा फर्ज है। प्रदेश सरकार ने बकराईद को लेकर जो गाइडलाइन जारी की है उसे हमें फॉलो करना है। उन्होंने लोगों से पर्दे में पशुओं की कुर्बानी करने की अपील की। कहा कि अल्लाह की रजा के लिए कुर्बानी करें। इस बात का ध्यान रखें की किसी दूसरे श्ख्स को इससे परेशानी न हो। पशु अवशेष खुले में डाले, गडढा खोदकर उसमें दफनाएं। इसके अलावा उन्होंने आपत्तिजनक जानवरों की कुर्बानी न करने की अपील भी की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Appeal Play Eid in homes sacrifice on screen