DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वाइन फ्लू से सहमा स्वास्थ्य विभाग, स्वाइन फ्लू का एक और केस मिला आर्मी अस्पताल, घर पहुंची टीम

जिले में स्वाइन फ्लू के केसों में इजाफा हो रहा हैं। एक सप्ताह में स्वाइन फ्लू के दो केसों की पुष्टि स्वास्थ्य विभाग ने की है। गुरुवार को श्रद्धापुरी में रहने वाले आर्मी में कैप्टन बेटे की मां को स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आर्मी अस्पताल, श्रद्धापुरी में घर में जाकर स्वाइन फ्लू की टेमी फ्लू दवा का कोर्स दिया। स्वाइन फ्लू का केस मिलने से स्वास्थ्य विभाग में हड़कप मच गया। श्रद्धापुरी में हरीश कुमार का परिवार रहता है। घर में इनकी 51 वर्षीय पत्नी प्रेरणा इनका बेटा जो हाल ही आर्मी के कैप्टन बने है। हरीश का परिवार पिछले सप्ताह परिवार के साथ केद्रारनाथ यात्रा में गए थे। यात्रा से वापस लौटे समय रास्ते में परिवार के तीनों की लोगों को खांसी, जुकाम और वायरल इंफेक्शन की चपेट में आ गए। हरीश, कैप्टन बेटी की दवाएं लेने के बाद हालत में सुधार हो गया। लेकिन प्रेरणा की हाल में सुधार नहीं हुआ धीरे-धीरे सांस लेने में तक्लीफ शुरू हो गई। परिवार वालों से मेरठ आकर आर्मी अस्पताल में डाक्टरों से परार्मश लिया। डाक्टरों ने 26 मई को हालत खराब होने पर आर्मी अस्पताल में भर्ती कर लिया। कई दिनों से अस्पताल के डाक्टरों ने इलाज किया। लेकिन हालत में सुधार नहीं हुआ डाक्टरों को स्वाइन फ्लू की संभावना लगी तो इनका एच-1, एन-1 जांच के लिए दिल्ली लैब के लिए सैंपल भेज दिया। दिल्ली लैब ने जांच रिपोर्ट में स्वाइन फ्लू की पॉजेटिव आई। अस्पताल प्रशासन को स्वाइन फ्लू की पुष्टि होने के डाक्टरों ने टेमी फ्लू दवा का कोर्स शुरू कर दिया। गुरुवार को आर्मी अस्पताल की रिपोर्ट में स्वाइन फ्लू की जानकारी स्वास्थ्य विभाग को मिली। सूचना मिलते ही टीम आर्मी अस्पताल, श्रद्धापुरी आवास पर पहुंचकर हरीश, कैप्टन बेटे को टेमी फ्लू दवा की डोज उपलब्ध कराई गई। स्वाइन विभाग की ओर से डॉ. रचना टंडन, डॉ. अशोक निगम समेत अन्य अधिकारी पहुंचे। एआरटीओ की हालत गंभीर वेंटिलेटर दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में भर्ती एआरटीओ लालाराम की जांच रिपोर्ट में उन्हें स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई है। चार साल पहले कई मामले स्वाइन फ्लू के मिल चुके हैं। एआरटीओ की हालत गंभीर है और वह गंगाराम अस्पताल में वेंटिलेटर पर हैं। आरटीओ कार्यालय के कर्मचारी, अधिकारी फोन पर परिजनों से उनके बारे में जानकारी लेते रहे। घर पहुंची टीम कोई ताला बंद मिला स्वास्थ्य विभाग की दो दिन से एआरटीओ लालाराम के जागृति विहार आवास पर जा रही है। लेकिन आवास में ताला लगा हुआ मिल रहा है। सभी परिजन दिल्ली में गंगाराम अस्पताल में हैं। टीम ने पड़ौस में भी जानकारी लेनी चाहिए लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली। टीम ने एआरटीओ की बेटी से फोन पर संपर्क कर जानकारी ली। स्वाइन फ्लू का इंफेक्शन कहां से हुआ इस बारे में परिजन कुछ भी बताने में असमर्थ थे। वर्जन इस साल का यह मेरठ में दूसरा केस है। यह वायरस कहां से आया इसकी जानकारी के प्रयास किए जा रहे हैं। टीम ने श्रद्धापुरी निवासी प्रेरणा इनके परिवार को टेमी फ्लू की दवा दी है। उन्होंने बताया कि एआरटीओ के परिजनों में अन्य सभी का स्वास्थ्य ठीक है। स्वास्थ्य विभाग ने इलाके में सफाई अभियान, फॉगिंग कराने की बात की है। - डॉ. वीपी सिंह, सीएमओ

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Another case of swine flu