DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मेरठस्मार्टफोन से ऑनलाइन काम करेंगी आंगनबाड़ी कार्यकत्री

स्मार्टफोन से ऑनलाइन काम करेंगी आंगनबाड़ी कार्यकत्री

हिन्दुस्तान टीम,मेरठNewswrap
Mon, 01 Nov 2021 03:06 AM
स्मार्टफोन से ऑनलाइन काम करेंगी आंगनबाड़ी कार्यकत्री

मवाना। संवाददाता

ब्लॉक मवाना और हस्तिनापुर में तैनात आंगनबाड़ी कार्यकत्री स्मार्टफोन मिलने पर हाईटेक हो जाएंगी। इससे सरकार उनके कार्य और गतिविधियों को जांच सकेगी। साथ ही सरकार इन केंद्रों पर चलने वाली योजना की ऑनलाइन निगरानी रख सकेगी।

मवाना ब्लॉक में 142 और हस्तिनापुर ब्लॉक में 79 आंगनबाड़ी कार्यकत्री कार्यरत हैं। इन सबको जल्द ही स्मार्टफोन दिए जाने हैं। इससे विभागीय कार्य स्मार्टफोन के माध्यम से ऑनलाइन हो सकेंगे। आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों पर कुपोषित और अति कुपोषित बच्चों का डाटा रखने के साथ ही उन्हें सुपोषण की ओर ले जाने की जिम्मेदारी है। इसके लिए उन्हे लंबाई, वजन व अन्य कई डाटा विभाग को उपलब्ध कराने होते हैं। पुष्टाहार वितरण भी उनके द्वारा किया जाता है।

स्मॉर्ट फोन के लिए हर माह 200 रुपये का डाटा

बाल विकास परियोजना के अफसरों के अनुसार आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को स्मॉर्टफोन के लिए हर माह डेटा भरवाने के लिए 200 रुपये की धनराशि भी अलग से दी जाएगी। स्मार्टफोन से विभागीय कार्यों को निर्धारित समय के भीतर निपटाया जा सकेगा। इस स्मार्ट फोन से आंगनबाड़ी पोषण ट्रैकर मोबाइल एप पर लाभार्थियों की प्रत्येक माह वृद्धि की निगरानी करेंगी। इसके अलावा केंद्र पर प्रदान की जाने वाले सभी विभागीय सेवाओं, पोषण और स्वास्थ्य मानकों की फीडिंग करेंगे, ताकि बच्चों का चिह्नीकरण एवं उनका प्रबंधन किया जा सके।

मवाना बाल विकास परियोजना अधिकारी राजीव केसरी ने बताया कि कुपोषित और अति कुपोषित बच्चों की सेहत में सुधार के लिए आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों पर अहम जिम्मेदारी है। स्मार्टफोन से वे कुपोषित और अति कुपोषित बच्चों की फोटो खींचकर अपने पास सुरक्षित रख सकेंगी। साथ ही वजन दिवस, अन्न प्रासन दिवस, गोदभराई आदि कार्यक्रमों की फोटो भी ऑनलाइन अपलोड कर सकेंगी।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें