ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश मऊपुत्र की दीर्घायु के लिए माताओं रखा व्रत

पुत्र की दीर्घायु के लिए माताओं रखा व्रत

सुबह से ही कोहरे के साथ हाड़ कंपा देने वाली ठंड के कारण लोग ठिठुरे रहे लेकिन माताओं के चेहरे पर कहीं कोई शिकन नहीं दिख रही...

पुत्र की दीर्घायु के लिए माताओं रखा व्रत
हिन्दुस्तान टीम,मऊMon, 01 Feb 2021 03:09 AM
ऐप पर पढ़ें

मऊ । निज संवाददाता

सुबह से ही कोहरे के साथ हाड़ कंपा देने वाली ठंड के कारण लोग ठिठुरे रहे लेकिन माताओं के चेहरे पर कहीं कोई शिकन नहीं दिख रही थी। बेटे के दीर्घायु के लिए व्रत को लेकर उत्साह के भाव दिख रहे थे। मौका था मंगलमूर्ति की आराधना का विशेष दिन गणेश चतुर्थी का था। जिले भर में रविवार को लोगों ने गणपति को नमन कर सुख-समृद्धि की कामना की।

नगर क्षेत्र के पावर हाऊस मंदिर, शीतला माता मंदिर, आजमगढ़ मोड़ स्थित दुर्गा मंदिर, रोडवेज स्थित दुर्गा, फातिमा मोड़ स्थित दुर्गा मंदिर समेत विभिन्न मंदिरों में सुबह से ही भक्तों की भारी भीड़ दर्शन को उमड़ पड़ी तो घर-घर में एक दंत दयावंत चार भुजाधारी की स्तुति की गई। माघ मास की चतुर्थी को मनाए जाने वाले गणेशोत्सव पर महिलाओं ने व्रत रखा और रात में गणपति की पूजा के बाद चंद्र को अ‌घ्र्यदान कर पारण किया। उसके बाद अपने लोगों के बीच प्रसाद का वितरण किया गया। पूजा के निमित्त सुबह से ही घरों में साफ-सफाई का काम शुरू हो गया था। शाम को स्नान के बाद महिलाओं ने घरों में तिल और गुड़ के लड्डू बनाए और फल-फूल के साथ पूजा की थाली सजाई। इसके बाद श्रद्धालु गणेश मंदिर की ओर जाना शुरू हो गए। मंदिर के आसपास खिलौना-गुब्बारा बेचने वालों ने अपनी दुकानें लगा रखी थीं। भोर से सुबह दस बजे तक भगवान का अभिषेक व श्रृंगार किया गया तत्पश्चात रात में भगवान का जन्म तथा आरती शुरू हुई और उसके बाद देर रात तक प्रसाद का वितरण किया गया। उधर इस पर्व की तैयारियों में बाजार में रविवार को भारी भीड़ रही। सड़क किनारे भेली, तिलकुट, गंजी, केला, गाजर, बेर, अमरूद के साथ ही कच्ची मिट्टी से बनी भगवान गणेश की प्रतिमा बेचने वाले बैठे हुए थे।