ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश मऊ94.153 हजार हेक्टेयर में खरीफ की बुआई का लक्ष्य

94.153 हजार हेक्टेयर में खरीफ की बुआई का लक्ष्य

जून माह लगभग आधा से अधिक बीत चुका है ऐसे में कृषि विभाग खरीफ की तैयारी में जुट गया है। इस बार कुल 94153 हेक्टेयर में खरीफ की बोआई की...

94.153 हजार हेक्टेयर में खरीफ की बुआई का लक्ष्य
हिन्दुस्तान टीम,मऊWed, 19 Jun 2024 11:15 PM
ऐप पर पढ़ें

मऊ। जून माह लगभग आधा से अधिक बीत चुका है ऐसे में कृषि विभाग खरीफ की तैयारी में जुट गया है। इस बार कुल 94153 हेक्टेयर में खरीफ की बोआई की जाएगी। समय से लक्ष्य पूर्ति के लिए विभाग ने उत्तम किस्म के बीजों को मंगाकर विभाग के गोदामों पर रखवा दिया है जिससे किसानों को सहूलियत रहे। इस बार इस बार ज्वार व बाजरा की खेती पर काफी जोर दिया जा रहा है। वहीं खरीफ फसल की बोआई को लेकर किसान तैयारी में जुट गए हैं।
जुलाई माह में बारिश शुरू होने के बाद खरीफ की बोआई शुरू हो जाती है। हालांकि, अबतक जिले में मानसून ने दस्तक नहीं दी है, लेकिन खरीफ की तैयारी को लेकर एक और जहां किसान आसमान की ओर निगाहें लगाए बैठे हैं, वहीं कृषि विभाग ने भी तैयारियां तेज कर दी हैं जिससे लक्ष्य पूर्ति में कोई बाधा ना आए। इस बार जनपद में ज्वार और बाजरा की खेती पर काफी जोर दिया जा रहा है। साथ ही धान, मक्का, अरहर, मूंग, उर्द, मूंगफली, तिल आदि की बोआई के लिए जनपद में कुल 94153 हेक्टेयर क्षेत्रफल भूमि लक्ष्य निर्धारित किया गया है। धान की रोपाई करने के लिए 87630 हेक्टेयर का लक्ष्य रखा गया है। साथ ही धान की नर्सरी के लिए 5842 हेक्टेयर भूमि का निर्धारित की गई है। संकर धान के लिए 3000, अन्य धान के लिए 84030 हेक्टेयर लक्ष्य निर्धारित है। मक्का फसल की बोआई के लिए 589 हेक्टेयर, ज्वार के लिए 22 हेक्टेयर, बाजरे की बोआई के लिए 2004 हेक्टेयर क्षेत्रफल की भूमि निर्धारित की गई है। वहीं अरहर के लिए 2854 हेक्टेयर, मूंग के लिए दो हेक्टेयर और उर्द के लिए 548 हेक्टेयर का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। मूंगफली के लिए 328 हेक्टेयर और तिल की बोआई के लिए 176 हेक्टेयर क्षेत्रफल की भूमि निर्धारित है। दलहन एवं तिलहन फसलों के बीज जनपद के सभी राजकीय गोदाम पर पहुंचा दिए गए हैं, जिससे किसानों को उनके उठान में सहूलियत हो।

बोआई का लक्ष्य

जिंस--लक्ष्य हेक्टेयर में

धान--87630

ज्वार--22

मक्का--589

बाजरा--2004

अरहर--2854

मूंग--02

मूंगफली--328

तिल--176

कुल--94153

रबी फसल 2023-24 लक्ष्य एवं पूर्ति का विवरण

जिंस--लक्षय--पूर्ति--प्रतिशत

गेहूं--94383--94531--100.16

जौ--2745--2747--100.07

रबी मक्का--186--00--00

चना--1808--1879--103.93

मटर--1774--1839--103.66

मसूर--409--447--109.29

तोरिया--1409--1448--100.07

राई/सरसों--246--251--102.03

बीज और खाद के इंतजाम पर्याप्त

खरीफ की फसल बोआई के लिए 94.15 हजार हेक्टेयर लक्ष्य निर्धारित कर दिया गया है। साथ ही विभाग ने बीज और खाद के इंतजाम पर्याप्त मात्रा कर लिया है। इस बार ज्वार-बाजारा की अधिक खेती पर जोर दिया जा रहा है। मोटे अनाज को बढ़ावा देने के लिए दो हजार से अधिक लक्ष्य निर्धारित किया गया है। मानसून साथ दिया तो इस बार खरीफ की फसल अच्छी होगी।

- सोमप्रकाश गुप्ता, जिला कृषि अधिकारी, मऊ।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।