DA Image
25 नवंबर, 2020|10:58|IST

अगली स्टोरी

संक्रमित मरीज द्वारा कॉल नहीं उठाने पर हास्पिटल में रखने के निर्देश

संक्रमित मरीज द्वारा कॉल नहीं उठाने पर हास्पिटल में रखने के निर्देश

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 31 अक्टूबर को बाल्मीकि जयन्ती के अवसर पर तहसील सदर में नोडल अधिकारी द्वारा महर्षि बाल्मीकि जी के चित्र पर माल्यार्पण किया गया। इसके पश्चात भवन में स्थिति कोविड-19 कन्ट्रोल रूम का औचक निरीक्षण किया गया तथा उसके सावधानियों के बारे में बताया गया। इस अवसर पर सर्विसलांस पोर्टल की स्थिति एवं आरटीपीसीआर टेस्टिंग के बारे में पूछा गया। जिस पर मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा इसके बारे में विस्तार पूर्वक बताया गया। नोडल अधिकारी द्वारा निरीक्षण में पाया गया कि 51 संक्रमित होम आइसोलेशन में रखे गये हैं। नोडल अधिकारी ने बताया कि आंगनवाडी एवं आशा कार्यकत्री के माध्यम से अपने-अपने क्षेत्रों में घर-घर जाकर किसी भी व्यक्ति को किसी भी प्रकार की समस्या हो रही है तो उसकी सूचना मुख्यालय पर दर्ज करायें। उनको प्रतिदिन काल करते रहें एवं मरीज द्वारा कॉल नहीं उठाने पर पुलिस की मदद से मरीज को एल-2 हास्पिटल में रखने के निर्देश दिये। उन्होंने प्राइमरी स्टेज के बारे में बताया कि एक साथ बैठकर किसी स्थान पर भोजन करना तथा ड्रिंक करना साथ में वर्कआउट न करें। यदि कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति को समय से इलाज करा दिया जायेगा तो काफी हद तक ठीक होने की स्थिति में आ जाता है। इस अवसर पर जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, अपर जिलाधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला विकास अधिकारी, नगर मजिस्ट्रेट सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Instructions to keep in the hospital if the infected patient does not pick up the call