DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पेंशन बहाली के लिये शिक्षकों ने दिया धरना

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ ने सोमवार को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर धरना दिया। इस दौरान नई पेंशन योजना की वापसी और पुरानी पेंशन की बहाली की पुरजोर  मांग की गयी।  मुख्यमंत्री को सम्बोधित आठ सूत्री मांग पत्र डीआईओएस को सौंपकर कार्रवाई की मांग की। आठ सूत्री मांगो वाला ज्ञापन प्रेषित किया गया । 

धरने के दौरान वक्ताओं ने जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय के घोर लापरवाही निंदा किया। मांगों के क्रम में प्रदेश के मंत्री नरेन्द्र सिंह ने बताया कि नई पेंशन योजना की वापसी तथा पुरानी पेंशन योजना की बहाली हो। वित्त बिहीन शिक्षकों की सेवाओं का प्रमाणन एवं उन्हें कम से कम पांच अंकों में मानदेय दिया जाय। पद के सापेक्ष नियुक्त कोषागार पूरा वेतन प्राप्त कर रहे अद्यतन कार्यरत तदर्थ शिक्षकों को विनियमित किया जाय। व्यावसायिक व कंप्यूटर शिक्षकों को पूर्ण शिक्षक का दर्जा दिया जाय। राज कर्मचारियों की भांति माध्यमिक शिक्षकों व कर्मचारियों को भी मेडिक्लेम  की सुविधा से आच्छादित किया जाये। एलटी ग्रेड में आमेलित शिक्षकों को उनकी  सी.टी. ग्रेड की सेवाओं को जोड़ कर उन्हें लाभ दिया जाए। एलटी ग्रेड  मे प्रोन्नत वेतनमान के लिये  परास्नातक उपाधि की बाध्यता को समाप्त किया जाए। आमेलित विषय विशेषज्ञों को  उनकी पूर्व की सेवाओं को जोड़ कर उनको सेवा लाभ दिया जाय।

साथ ही चेताया कि यदि समय रहते हमारी मांगों को पूरा नहीं किया गया तो हम व्यापक स्तर पर आंदोलन करने को विवश होंगे। धरने में प्रदेशीय उपाध्य,  के पी सिंह,संरक्षक राजेंद्र सिंह ,पार्लियामेंट्री बोर्ड के सदस्य राजनाथसिंह  ग़ाज़ीपुर के पूर्व अध्यक्ष राम जन्म सिंह,बलिया के अध्यक्ष अश्विनी कुमार तिवारी,  मंत्री आनंद मोहन सिंह, डॉक्टर राकेश सिंह , जयनारायण पाण्डेय, कृष्णानंद सिंह, नसीम अहमद, देवेंद्र सिंह, वरिष्ठ उपाध्यक्ष योगेन्द्र सिंह, अमर जीत सिंह, रवि यादव,  राधेश्याम शाही , मनोज सिंह, राजेश सिंह सहित सैकड़ों शिक्षक मौजूद रहे।अध्यक्षता जिलाध्यक्ष शैलेश कुमार सिंह व संचालन राघवेंद्र सिंह ने किया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:For the restoration of pension