DA Image
26 नवंबर, 2020|4:43|IST

अगली स्टोरी

मानवता के उपासक व सिद्धांतवादी थे डा.मुखर्जी

मानवता के उपासक व सिद्धांतवादी थे डा.मुखर्जी

भारतीय जनता पार्टी की ओर से डा.श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस के अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष प्रवीण कुमार गुप्ता द्वारा बूथ नम्बर एक कासिमपुर में लोक कल्याण सेवा न्यास के साथ मिलकर 101 पौधों का रोपण किया गया। साथ ही भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने हर मंडल पर डा.मुखर्जी को याद करते हुए माल्यार्पण श्रद्धांजलि दी। जिलाध्यक्ष ने जनपद कार्यालय पर डा.मुखर्जी के छाया चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए कहा कि डा.मुखर्जी सच्चे अर्थों में मानवता के उपासक और सिद्धान्तवादी व्यक्ति थे। डा.मुखर्जी आजीवन अपने सिद्धांतो पर चलते रहे, भारत की अखंडता और एकता के लिए डा. साहब ने कोई समझौता नहीं किया। डा.साहब ने एक देश में दो विधान दो निशान के खिलाफ आंदोलन चलाया। 23 जून सन1953 को रहस्यमयी परिस्थितियों में इनकी मौत हो गई। इस अवसर पर दीनबंधु राय, संजय पांडेय, कृष्ण कान्त राय, सुनील यादव, अंजनी सिंह, विनोद गुप्ता, सुधीर सोनकर, मदन देववंशी, पंकज राजभर सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे। रानीपुर संवाद के अनुसार ब्लाक सभागार में सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के द्वारा डा.श्यामा प्रसाद मुखर्जी का बलिदान दिवस मंडल अध्यक्ष योगेश प्रताप सिंह की अध्यक्षता में मनाया गया। कार्यकर्ताओं ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर उनके बताए हुए पद चिन्हों पर चलने का संकल्प लिया। इस दौरान योगेन्द्रनाथ राय, अजय सिंह, अवधनाथ दुबे, छेदी सिंह, हरिकेश चौहान, धनई सिंह, मनोज सिंह, अजय मौर्य, सुनील गोड, जितेंद्र यादव आदि मौजूद रहे।

बलिदान दिवस पर डा.मुखर्जी को किया नमन

दोहरीघाट। मण्डल के भाजपा कार्यकर्ताओं ने सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह से पालन करते हुए मंगलवार को जनसंघ के संस्थापक डा.श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर उन्हें नमन किया। भाजपा कार्यकर्ताओं ने डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उनके व्यक्तित्व व कृतित्व पर चर्चा की। वरिष्ठ भाजपा नेता मोतीचंद्र के आवास पर आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता मण्डल अध्यक्ष रामधीन पांडेय ने किया तथा संचालन प्रेम पटेल ने किया। मण्डल अध्यक्ष रामधीन पांडेय ने बताया कि डा. मुखर्जी कश्मीर में धारा 370 के खिलाफ थे। उन्होंने देशहित में खुद को बलिदान कर दिया था। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी प्रखर राष्ट्रवादी, शिक्षाविद और सच्चे शब्दों में कहे तो भारत के अग्रणी महापुरुषो में से एक थे।विनय जायसवाल ने कहा कि डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का राष्ट्र के प्रति योगदान अविस्मरणीय है। इस दौरान पिछड़ा वर्ग के पूर्व जिला अध्यक्ष मुन्ना प्रसाद चौहान, डा.विजय चौहान, आदि नारायण सिंह चौहान, सतीश श्रीवास्तव, राहुल दुबे, रूपेश श्रीवास्तव, संतोष मौर्या, अंकुर गुप्ता, आकाश राय, रूपेश मोदनवाल आदि मौजूद रहे।

डा.मुखर्जी के पद्चिह्नों पर चलने का लिया संकल्प

घोसी। भारतीय जनता पार्टी के मण्डल कार्यालय पर मंगलवार को पं.श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि बलिदान दिवस के रूप में मनाई गई। इस अवसर पर उनके आदर्शों पर चलने का संकल्प लेते हुए उपस्थित कार्यकर्ताओं ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किय। भाजपा मण्डल अध्यक्ष रविन्द्र उपाध्याय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पं.श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सपनों को साकार करते हुए धारा 370 एवं 35ए हटाकर एक देश एक विधान और एक निशान लागू कर उनको सच्ची श्रद्धांजलि दी गई है। जम्मू कश्मीर को भारत की मुख्य धारा में जोड़कर सराहनीय कार्य किया है। इस अवसर पर कृपाशंकर सिंह, अतुल शर्मा, गिरिजापति राय, उद्देश्य पाण्डेय,सक्षम, अनिरूद्ध सिंह, मुन्ना गुप्ता, संतोष मिश्रा, राकेश मिश्रा, दिनेश गुप्ता, मनोज राजभर, विनय मौर्या, इन्द्रबहादुर सिंह, अरविन्द मौर्या, हरेन्द्र आदि ने श्रद्धांजलि अर्पित की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Dr Mookherjee was a worshiper and theorist of humanity