ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश मऊज्यादा दुर्घटना वाले स्थानों की डीएम ने मांगी सूची

ज्यादा दुर्घटना वाले स्थानों की डीएम ने मांगी सूची

जिलाधिकारी प्रवीण मिश्र की अध्यक्षता में बुधवार को कलक्ट्रेट सभागार में जनपद स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक ...

ज्यादा दुर्घटना वाले स्थानों की डीएम ने मांगी सूची
हिन्दुस्तान टीम,मऊWed, 21 Feb 2024 11:00 PM
ऐप पर पढ़ें

मऊ। जिलाधिकारी प्रवीण मिश्र की अध्यक्षता में बुधवार को कलक्ट्रेट सभागार में जनपद स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक हुई। बैठक के दौरान अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी को नये ब्लैक स्पॉट चिह्नित कर संकेतक लगाने के अलावा शहरी क्षेत्र के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में भी हो रही दुर्घटनाओं पर विशेष ध्यान देने को कहा। जिलाधिकारी ने ऐसे स्थल जहां तीन या उससे ज्यादा सड़क दुर्घटना में मौतें हुई हैं, उनकी सूची भी उपलब्ध कराने को कहा।
उन्होंने ज्यादा दुर्घटना वाले स्थानों का स्थलीय निरीक्षण कर दुर्घटना के कारणों का पता लगाने व अंतर विभागीय समन्वय बढ़ाते हुए टीम भावना से कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने इसे एक अभियान के तौर पर लेते हुए कार्य करने को कहा, जिससे सड़क दुर्घटनाओं में होने वाले मौतों को कम किया जा सके। पुलिस अधीक्षक अविनाश पांडे ने जनपद के प्रमुख दुर्घटना स्थलों का पीपीटी के माध्यम से प्रस्तुतीकरण करते हुए संबंधित थानाध्यक्षों से दुर्घटना स्थलों का स्थलीय निरीक्षण करते हुए कारणों का पता लगाने पर जोर दिया। इस संबंध में अन्य संबंधित विभागों से समन्वय स्थापित कर बेहतर ढंग से काम करने को कहा। जिससे सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों को कम किया जा सके। बैठक में अपर जिलाधिकारी सक्तिप्रिय सिंह, सिटी मजिस्ट्रेट, समस्त क्षेत्राधिकारी, अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी, एआरटीओ सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

सड़क किनारे अतिक्रमण हटाने के निर्देश

मऊ। जिलाधिकारी ने सिटी मजिस्ट्रेट, क्षेत्राधिकारी, अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी एवं अधिशासी अधिकारी की संयुक्त टीम बनाकर सड़कों के किनारे अतिक्रमण हटाने को भी कहा। जिलाधिकारी ने मोड़ वाले स्थानों से अतिक्रमण हटाने, कनेक्टिंग सड़कों पर स्पीड ब्रेकर लगाने एवं आवश्यकता अनुसार टर्निंग रेडियस भी लगाए जाने के निर्देश दिए। सड़क किनारे गड्ढों के दृष्टिगत उन्होंने किनारों पर व्यवस्थित ढंग से मिट्टी के माध्यम से गड्ढों को भरने व आवश्यक होने पर अन्य कार्यवाई करने को कहा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें