DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मथुरादिन-ब-दिन बदतर हो रही कस्बे की यातायात व्यवस्था

दिन-ब-दिन बदतर हो रही कस्बे की यातायात व्यवस्था

हिन्दुस्तान टीम,मथुराNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 06:15 PM
दिन-ब-दिन बदतर हो रही कस्बे की यातायात व्यवस्था

कस्बे में बढ़ते वाहनों के बोझ, उनकी संख्या के चलते दिन-ब-दिन यातायात व्यवस्था बेलगाम और बदहाल होती जा रही है। यहां के बेलगाम यातातात को संभालने के लिए पूरे क्षेत्र में कहीं भी एक भी ट्रैफिक पुलिसकर्मी दिखाई नहीं देता है। धार्मिक नगरी होने के कारण यहां प्रतिदिन आने वाले हजारों श्रद्धालु और नगरवासियों को इसका खामियाजा भुगतना पड़ता है।

इस दौरान कार्तिक नियम सेवा के चलते नगर में करीब 20 हजार लोग अन्य प्रांतों से आकर ठहरे हुए हैं, जो एक माह तक प्रवास कर नियम संकीर्तन करते हैं। वहीं रविवार को देवोत्थान एकादशी पर गिरिराज परिक्रमा लगाने को उमड़े श्रद्धालुओं के रेला ने यहां यातायात व्यवस्था को दुश्वार बना दिया। इस दौरान रामलीला मैदान चौराहे पर करीब प्रत्येक घंटे बाद परिक्रमार्थी श्रद्धालुओं को जाम का सामना करना पड़ा। हालात इतने खराब हो गए कि मजबूरन स्थानीय लोगों ने श्रद्धालुओं को परिक्रमा का मूल पथ छोड़कर अन्य रास्तों से निकाला। प्रतिमाह एकादशी से लेकर पूर्णमासी तक यहां श्रद्धालुओं का सैलाब परिक्रमा और दर्शन करने के लिए उमड़ता है। वाहनों के कस्बे के परिक्रमा मार्ग में प्रवेश पर प्रतिबंधित होने के कारण सभी ई-रिक्शा और अन्य वाहन चालक रामलीला मैदान पर सड़क पर वाहनों को बेतरतीब खड़े कर देते हैं। इससे यहां जाम के हालात बन जाते है। स्थानीय निवासी मुकेश मिश्रा ने बताया रामलीला मैदान चौराहे पर जाम की स्थिति रविवार को बेहद बिगड़ी हुई दिखाई दी। इसे संभालने के लिए कोई भी पुलिसकर्मी तैनात नहीं था। अन्यथा स्थिति खराब नहीं होती। स्थानीय लक्ष्मीकांत मिश्रा, गणेश मिश्रा, बांके वकील, बालों बाबा, विष्णु मिश्रा आदि ने एसएसपी डा.गौरव ग्रोवर से कस्बे की बिगड़ती यातायात व्यवस्था को सुधरवाने की मांग की है।

कस्बे में उठी ट्रैफिक पुलिसकर्मी की मांग

स्थानीय लोगों का कहना है कि कस्बे में लगातार बिगड़ती जा रही ट्रैफिक व्यवस्था लापरवाही के चलते भविष्य में विकराल रुप धारण कर सकती है। उन्होंने इसे सुचारू रूप से चलाने के लिए कस्बे कम से कम चार ट्रैफिक पुलिसकर्मी नियमित रूप से तैनात करने की मांग की है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें