DA Image
22 नवंबर, 2020|11:43|IST

अगली स्टोरी

कृष्ण-बलराम के स्वरूपों ने किया गो-चारण

default image

गोपाष्टमी पर लाखों भक्तों ने गो-सेवा की। उन्होंने घरों, मंदिरों, गोशालाओं में गायों को चारा एवं मीठा मिलाकर आटे के लोआ खिलाए। अनेक भक्तों ने गायों को पटुका पहनाकर, तिलककर, घंटारिया बांधकर सजाया संवारा और आरती उतारी। चतुर्वेद परिषद ने कृष्ण-बलदेव स्वरूपों के साथ गोचारण यात्रा निकाली।

रविवार को गो-पूजन का सिलसिला सुबह से ही आरंभ हो गया। हजारों भक्तों ने मथुरापुरी की परिक्रमा करते हुए भी गोपूजन किया। इससे पूर्व श्रीमाथुर चतुर्वेद परिषद ने प्रातः विश्राम घाट पर गो-चारण लीला का आयोजन किया। संरक्षक नवीन नागर, महामंत्री राकेश तिवारी द्वारा ठाकुर जी की आरती उतारकर लीला का शुभारंभ किया। शाम को पुराने बस स्टैंड के पास गोपाल आश्रम पर ठाकुर जी गोचारण के लिए गए और वहां एकत्रित चतुर्वेदी समाज के बंधुओं ने फूलन के बाजूबंद फूलन की माला, गऊ चराय घर आए नंदलाला का गायन किया। इस भावना के साथ ठाकुर जी गोचारण कर वापस आए। इस अवसर पर परिषद के मुख्य संरक्षक एवं अखिल भारतीय तीर्थ पुरोहित महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेश पाठक, गिरधारी लाल पाठक,अध्यक्ष राकेश चतुर्वेदी, मनोज पाठक, संजय अल्पाइन, कमल चतुर्वेदी, संजीव चतुर्वेदी एडवोकेट, अमित पाठक, गोपाल चतुर्वेदी, अमित चतुर्वेदी, नीरज चतुर्वेदी आदि ने व्यवस्थाओं को संभाला। युवा समिति के द्वारकेश तिवारी,सौरभ चतुर्वेदी, गोपाल पाठक,मुकुंद लाल चतुर्वेदी बैंक वाले आदि मौजूद थे।

गायों का किया गया श्रंगार

मथुरा। श्रीमद् भागवत कथा आयोजन समिति के तत्वावधान में गोपाष्टमी पर्व के उपलक्ष्य में प्राचीन परंपरागत सामूहिक गो-पूजन श्रीजी बाबा आश्रम स्थित गोशाला में किया गया। इस दौरान सभी गायों को मेहंदी, ओढ़नी, वंदनी से श्रृंगारित कर उनका पूजन किया गया। इस दौरान संत राजा बाबा, समिति के अध्यक्ष पंडित शशांक पाठक, विनोद गौड़, संजय शर्मा पिपरोनिया, आशीष शर्मा, हर्षवर्धन शास्त्री, हरीशंकर शास्त्री, श्याम शर्मा आदि उपस्थित थे ।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The forms of Krishna and Balarama made cow go off