DA Image
3 जुलाई, 2020|5:10|IST

अगली स्टोरी

क्रॉस ओवर के लिए अधिकारियों ने किया मंथन

लाइनों को जोड़ने के काम को लेकर चल रही कागजी कार्रवाई मंगलवार को अंतिम दौर में पहुंच गई। एनसीआर और एनई रेलवे के अधिकारियों की बैठक में मंथन के बाद अंतिम मुहर लगा दी गई। जंक्शन पर दिल्ली और कासगंज ट्रैक को जोड़ने का काम अब अंतिम दौर में पहुंच गया है। हालांकि इस काम की शुरुआत तो पहले से हो चुकी है। लेकिन एनसीआर और एनई रेलवे के बीच कुछ कागजी कार्रवाई अधूरी थी। मंगलवार को पूर्वोत्तर रेलवे गौरखपुर के ट्रांस्पोर्टेशन मेनेजर व एनसीआर के वरिष्ठ मण्डल परिचालन प्रबंधक हिमांशु शेखर ने मौका मुआयना किया। दोनों अधिकारियों ने क्रास ओवर लाइन के काम को मौके पर जाकर देखा और अधूरी कागजी प्रक्रिया को पूरा करने के लिए आपस में मंथन किया। मौके का निरीक्षण करने के बाद उक्त अधिकारियों ने उत्तर मध्य रेलवे के गेस्ट हाउस में बैठक कर कागजी खानापूर्ति पूरी की। रेलवे सूत्रों का कहना है कि लाइनों के क्रास ओवर के काम को अब गति मिलेगी। इस दौरान एनसीआर और एनई रेलवे के अधिनस्थ कर्मचारी भी मौजूद रहे। दिल्ली और कासगंज रेलवे ट्रैक के आपस में मिल जाने के बाद लखनऊ, इलाहबाद, कानपुर की ओर जाने वाले यात्रियों को इसका लाभ मिलेग। दिल्ली की ओर से आने वाली ट्रेन को आगरा की बजाए इसी क्रास ओवर के माध्यम से सीधे निकाल दिया जाएगा। इसके साथ ही लखनऊ, इलाहबाद की ओर जाने वाली ट्रेनों में भी इजाफा होगा। जिसका सीधा फायदा इन रूटों पर यात्रा करने वाले लोगों को मिलेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Officials churned for cross-over in mathura