DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लापरवाही : शटरिंग के लिए सरिया चढ़ाते समय करंट लगने दो मजदूर झुलसे

नगर निगम की ओर से संचालित कान्हा गोशाला में चल रहे निर्माण कार्य के दौरान हाईटेंशन लाइन से लोहे की सरिया छू जाने से फैले करंट से दो मजदूर झुलस गए। दोनों को उपचार के लिए आगरा एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। जहां एक हालत गंभीर बनी हुई है।सोमवार को सुबह करीब 9:30 बजे मजदूर एक शेड की छत की शटरिंग करते समय सरिया चढ़ा रहे थे। तभी पास से गुजर रही हाईटेंशन लाइन से सरिया छू गया। जिससे सरिया चढ़ा रहे दो मजदूर उसकी चपेट में आ गए। देखते ही देखते दोनों मजदूर छत के लिए बन रही शटरिंग से नीचे जमीन पर गिर पड़े। आसपास काम कर रहे मजदूर एवं पेटी ठेकेदार भगवान शंकर उन्हें तत्काल जिला संयुक्त चिकित्सालय ले गए जहां डाक्टरों ने उनकी गंभीर स्थिति को देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद एंबुलेंस से एसएन मेडिकल कॉलेज आगरा के लिए रेफर कर दिया। डा. दिलीप कुमार ने बताया कि घायल मजदूर चंद्रपाल (40) निवासी गांव मुद्रा आगरा करीब 70 प्रतिशत झुलस चुका है वहीं सोनवीर निवासी रैपुरा आगरा के सिर में चोट है तथा सीने में दर्द बता रहा है। बता दें प्रदेश शासन के निर्देश पर नगर निगम द्वारा पानीगांव रोड पर कान्हा गोशाला का निर्माण कराया जा रहा है। इसमें गोवंश को रखने के लिए कुल 16 पक्के शेड बनाए जाने हैं। इनमें से 9 शेड का निर्माण पूरा हो चुका है। शेष 7 शेड के निर्माण का कार्य जारी हैं। वर्तमान में यहां अस्थाई एवं स्थाई शेडों में एक हजार से अधिक गोवंश आश्रय पा रहा है। इनकी देखरेख नगर निगम द्वारा ही कराई जा रही है।साफ नजर आ रही थी लापरवाहीवृंदावन। जिस स्थान पर निर्माण कार्य चल रहा था उस जगह एवं हाईटेंशन लाइन बीच काफी कम दूरी है। इसके बावजूद छत पर चढ़ाया जा रहा सरिया का बंडल एकदम लाइन के नीचे रखा हुआ था। जिसे मजदूर उठाकर छत पर चढ़ा रहे थे। ऐसा करते हुए मजदूर स्वयं मौत को न्योता दे रहे थे। इससे ठेकेदार और मजदूरों की लापरवाही साफ तौर पर नजर आ रही थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Negligence Two laborers injured due to shoutring