DA Image
9 नवंबर, 2020|7:52|IST

अगली स्टोरी

क्वारंटाइन में लापरवाही पड़ सकती है भारी

default image

कोरोना को लेकर बाहर से आने वाले लोगों पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा ध्यान न देना और ऐसे लोगों द्वारा भी लापरवाही बरतना भारी पड़ सकता है। अनलॉक के बाद देश के विभिन्न शहरों से हजारों लोग यहां अपने घरों पर आ चुके हैं, ये लोग क्वारंटाइन होने के बजाय मोहल्लों, कॉलोनियों और बाजारों में घूम रहे हैं। इन पर किसी तरह की निगरानी न होने से संकट बढ़ सकता है। बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं, जिनके बारे में प्रशासन को जानकारी ही नहीं है। ऐसे लोग न केवल अपने परिवार और आसपास रहने वाले और शहर के लिए खतरा बन सकते हैं।अनलॉक होने और ट्रेनों का संचालन शुरू होने के बाद बड़ी संख्या में शहर और देहात में लोग विभिन्न राज्यों से अपने पैतृक घरों पर आ चुके हैं। उत्तर प्रदेश सरकार के नियमानुसार अन्य राज्यों से आने वाले लोगों को 14 दिन होम क्वारंटाइन रहना होगा लेकिन शायद ही कुछ लोग इसका पालन कर रहे हैं। बाहर से आनेवाले लोग आराम से अपने घर वालों के साथ तो रह ही रहे हैं, गली, मोहल्लों, कॉलोनियों और गांवों के लोगों से भी मिलजुल रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Negligence can be heavy in quarantine