DA Image
23 अप्रैल, 2021|7:09|IST

अगली स्टोरी

मथुरा-वृंदावन के बीच चलेगी मेट्रो

default image

मथुरा-वृंदावन के बीच मेट्रो चलाने की योजना पर कार्य शुरू हो गया है। बंद पड़ी मथुरा-वृंदावन रेल लाइन पर मेट्रो का सपना साकार होगा। एलीवेटेड ट्रैक (ऊपर) जहां मेट्रो दौड़ेगी, वहीं नीचे सड़क बनाकर वाहन दौड़ाये जाएंगे। शनिवार को इसे लेकर एक महत्वपूर्ण बैठक मथुरा जंक्शन पर हुई, जिसमें दिल्ली से रेल भूमि विकास प्राधिकरण (आरएलडीए) के अधिकारी, उत्तर प्रदेश ब्रज तीर्थ विकास परिषद के उपाध्यक्ष शैलजाकांत मिश्र और रेलवे के अधिकारी शामिल थे। बैठक में तय हुआ कि दो माह में आरएलडीए इसका प्रोजेक्ट बना लेगा।

मथुरा-वृंदावन मार्ग पर इस समय बहुत ट्रैफिक है। यह सड़क ज्यादा चौड़ी भी नहीं है। जिसके कारण इस रास्ते पर वाहन चलाना मुश्किल भरा रहता है। वहीं दूसरी ओर मथुरा-वृंदावन रेल लाइन बेकार पड़ी है। पहले मथुरा-वृंदावन के बीच राधारानी एक्सप्रेस के नाम से ट्रेन चलती थी, लेकिन उसे बंद कर रेल बस चलायी गई। रेल बस खराबी आने पर कभी भी बंद हो जाती है। ऐसे में यातायात का सारा भार मथुरा-वृंदावन मार्ग पर ही है।

ऐसे हुई शुरूआत

मथुरा-वृंदावन रेल मार्ग पर मेट्रो चलाये जाने को लेकर लोकसभा चुनाव से पूर्व सांसद हेमामालिनी और उत्तर प्रदेश ब्रज तीर्थ विकास परिषद के उपाध्यक्ष शैलजाकांत मिश्र रेल मंत्री पीयूष गोयल से मिले थे। क्योंकि यह जगह रेलवे की है, इसलिए रेलवे की अनुमति के बगैर कुछ नहीं किया जा सकता। पीयूष गोयल ने इस पर सहमति जता दी थी। अब यह मसला आगे बढ़ा।

यह हुआ आज की बैठक में

बैठक में इस बात पर विमर्ष हुआ कि इस रेलवे ट्रैक को हटाकर एलीवेटेड मेट्रो चलायी जाए। नीचे सड़क बनायी जाए, जिस पर मथुरा-वृंदावन के लिए वाहन दौड़ें। ऐसा होने से जहां मथुरा-वृंदावन रोड पर यातायात का भार कम होगा, वहीं आवागमन भी सुगम होगा। मेट्रो के लिए दो ट्रैक होंगे, जिसमें से एक पर वृंदावन जाना और दूसरे पर मेट्रो का वृंदावन से मथुरा आना होगा। रास्ते में जहां भी मेट्रो के स्टेशन बनेंगे, वहां कॉमर्शियल कॉप्लेक्स बनाये जाएंगे। यह ट्रैक खूबसूरत बनाया जाएगा, ताकि मेट्रो से सफर करने वालों को एक सुखद अनुभूति हो। इस योजना को लेकर फिलहाल सैद्धांतिक सहमति बन गई है। बैठक में प्रोजेक्टर के माध्यम से ड्रोन से किया गया सर्वे भी दिखाया गया। ड्रोन से तैयार किया गया यह सर्वे करीब 12 मिनट का है।

यह रहे बैठक में मौजूद

शनिवार को मथुरा जंक्शन रेलवे स्टेशन पर हुई बैठक में आरएलडीए के अधिकारी अंजनि कुमार, यहां से शैलजाकांत मिश्र, आगरा रेल मंडल प्रबंधक सुशील चंद श्रीवास्तव, सीनियर डीसीएम आशुतोष सिंह, वरिष्ठ मंडल इंजीनियर सचिन वर्मा, एसडीएम और स्थानीय अधिकारी मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Metro will run between Mathura-Vrindavan