DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मथुराहरि हम कब होंगे ब्रजवासी...

हरि हम कब होंगे ब्रजवासी...

हिन्दुस्तान टीम,मथुराNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 07:25 PM
हरि हम कब होंगे ब्रजवासी...

परिक्रमा मार्ग स्थित लता भवन में ठा. पर्यावरण बिहारीजी का प्राकट्य रसोत्सव विभिन्न धार्मिक व सांस्कृतिक कार्यक्रमों के मध्य मनाया गया। जिसमें सूफी भजन गायक जेएसआर मधुकर ने भजन प्रस्तुति देकर सां बांध दिया।

हितकिंकर बाबा सेवक शरण की कर्मस्थली में विराजमान ठा. पर्यावरण बिहारी के समक्ष रविवार सुबह पर्यावरण शुद्धि यज्ञ, अपराह्न पर्यावरण परिचर्चा एवं शाम को रस गायन का आयोजन किया गया। जहां संतों एवं विद्वानों ने यज्ञ में आहुति देकर पर्यावरण शुद्धि की कामना की। वहीं परिचर्चा में पर्यावरण संरक्षण पर चर्चा करते हुए पौधरोपण और इनकी देखभाल एवं वृक्षों को कटने से बचाने का आह्वान किया गया। रस गायन में ब्रज रसिक सूफी भजन गायक जेएसआर मधुकर ने ब्रज रसिक संतों के पदों का गायन किया एवं शशी सखी, भावना सखी आदि कलाकारों ने उनका साथ दिया। उन्होंने हरि हम कब होंगे ब्रजवासी.., ऐसे भक्त मोहे भावे ऊधो.., कितनी मुद्दत बाद मिले हो.., अधमों को नाथ उतारना..., हमारो प्रणाम श्रीबांकेबिहारी को.., राधावल्लभ मेरो प्यारो.., श्रीवृंदावन धाम अपार.., पिया सो नैंन..आदि का गायन कर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस अवसर पर मदनबिहारी बाबा, किशोरी शरण, डा.गुणाकर, डा.ओम, इंदू भूषण स्वामी, लोकेश गोस्वामी, तरुण, जय गोस्वामी आदि उपस्थित थे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें