DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › मथुरा › अंर्तमन के अंधकार को दूर करती है गुरु वाणी : ऋतंभरा
मथुरा

अंर्तमन के अंधकार को दूर करती है गुरु वाणी : ऋतंभरा

हिन्दुस्तान टीम,मथुराPublished By: Newswrap
Fri, 23 Jul 2021 08:20 PM
अंर्तमन के अंधकार को दूर करती है गुरु वाणी : ऋतंभरा

वात्सल्य ग्राम में दो दिवसीय गुरु पूर्णिमा महोत्सव शुक्रवार से शुरू हो गया। साध्वी ऋतंभरा ने कहा कि गुरु की वाणी वह प्रकाश पुंज है जो अंर्तमन के अंधकार को दूर कर जीवन को आलोकित कर देता है। वह व्यक्ति मूर्ख होता है जो खुश रहने के लिए सुख की तलाश करता है, क्योंकि जाग्रत व्यक्ति कभी सुख की तलाश नहीं करता वह तो हर परिस्थिति से सुख प्राप्त करता है, क्योंकि जाग्रत व्यक्ति संसार की असलियत को जानता है और सामान्य व्यक्ति संसार को असली समझता है। गुरु हमें इसी सत्य से परिचित कराते हैं। गुरु हमें जीवन के सत्य से परिचित कराते हैं।

इस अवसर पर संजय गुप्ता, साध्वी सत्य प्रिया, स्वामी सत्यशील, सुमनलता, साध्वी सुहृदया, साध्वी समनविता, साध्वी सत्यकीर्ति, साध्वी सत्यश्रुति, साध्वी सत्यश्रद्धा, साध्वी सत्यव्रता आदि उपस्थित थे। हनुमान प्रसाद धानुका सरस्वती बालिका विद्या मंदिर में गुरुपूर्णिमा पर्व पर आचार्यवृंद ने गुरु को वंदन एवं नमन कर अपने भाव अर्पित किए। आचार्या सुमन शर्मा व सोनिया चतुर्वेदी ने भजन, शालू तिवारी, कुसुम सैनी, अपर्णा श्रीवास्तव, प्रीति सिकरवार, तनु रावत ने गुरु महिमा गान, कृष्ण कुमार तिवारी, सीमा माहेश्वरी, लता टेंटीवाला व लता गौतम ने गुरु के महत्व पर विचार प्रस्तुत किए। अर्चना, सीमा दीक्षित, वर्षा नोतानी, सरिता रानी ने दोहे के माध्यम से गुरुओं का वंदन किया। प्रधानाचार्य डा. अंजू सूद ने कहा कि सद्गुरु हमें आध्यात्मिक शिक्षा देते हुए ईश्वर से जोड़ता है, गुरु शक्ति सम्पन्न है, संजीवनी शक्ति है, प्रेम का सागर है जिसके कारण भक्त भावविह्वल हो जाता है। इस अवसर पर पदमनाभ गोस्वामी, बांकेबिहारी शर्मा, विश्वनाथ गुप्ता, रेखा माहेश्वरी, वर्तिका गोयल आदि थे।

संबंधित खबरें