DA Image
22 अप्रैल, 2021|7:10|IST

अगली स्टोरी

धर्मनगरी में बाहर से आने वालों की निगरानी एवं जांच की मांग

धर्मनगरी में बाहर से आने वालों की निगरानी एवं जांच की मांग

वृंदावन विकास फाउंडेशन के तत्वावधान में एक प्रतिनिधि मंडल ने अपर नगर आयुक्त सतेंद्र कुमार तिवारी से मुलाकात की। जिसमें धर्मनगरी में बाहर से आने वाले लोगों की निगरानी एवं जांच की मांग की गई।प्रतिनिधि मंडल का कहना है कि नगर में अनेक सोसायटी एवं कालोनियां हैं। जिसमें बाहर के लोगों के फ्लैट हैं। ऐसे लोग कोरोना संक्रमण महामारी के भय से अपने शहर को छोड़कर यहां अपने फ्लैटों में रहने को आ रहे हैं। ऐसे सर्वाधिक लोग में दिल्ली, गुरुग्राम, फरीदाबाद, नोएडा एवं जयपुर आदि से आ रहे हैं, जो कि संक्रमित हो सकते हैं। ऐसे लोग वृंदावन के बाजार में भ्रमण करेंगे तो वहां के रिक्शा चालक, सामान्य लोग एवं दुकानदारों में संक्रमण फैलने के ज्यादा आसार हैं। इस परिस्थिति को देखकर ऐसी सभी कालोनियों एवं सोसायटी में नोटिस चस्पा करा दिया जाए और सुनिश्चित किया जाए कि बाहर से आने वाले लोगों की सारी जानकारी नजदीक की पुलिस चौकी में दी जाए एवं स्वयं 14 दिन होम क्वारंटाइन रहें। कहा कि वृंदावन में प्रवेश करने के सभी मार्गों पर पुलिस प्रशासन द्वारा बेरीकेडिंग कराकर बाहर से आने वाले व्यक्तियों का रिकार्ड मेंटेन किया जाए। अपर नगर आयुक्त सतेंद्र कुमार तिवारी ने नगर के सभी नागरिकों से आह्वान किया है कि बाहर से आने वाले लोगों की सूचना नगर निगम में अवश्य दें। ताकि उन्हें होम क्वारंटाइन कराकर उनका मेडिकल चेकअप कराया जा सके। इससे पूर्व प्रतिनिधि मंडल द्वारा सिटी मजिस्ट्रेट मनोज कुमार सिंह को एक ज्ञापन दिया गया। जिसमें वृंदावन को कोविड-19 संक्रमण से बचाने हेतु बाहर से आने वाले व्यक्तियों की जांच कराने की मांग की गई है। इस अवसर पर अध्यक्ष आचार्य रामविलास चतुर्वेदी, सचिव आलोक बंसल, उपाध्यक्ष अवनीश यादव आदि उपस्थित थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Demand for monitoring and investigation of those coming from outside in Dharmanagri