DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंडी चौराहे पर गुस्साए व्यापारियों ने हटाए स्टॉपर

जिला प्रशासन द्वारा बंद कराया मंडी चौराहा कट शनिवार को स्थानीय लोगों की जबरदस्ती पर आंशिक रुप से खोल दिया गया। इसे प्रशासन ने लोकसभा चुनावों का हवाला देकर बंद कराया था। इससे आक्रोशित व्यापारियों को डीएम ने चुनाव बाद इसे खोलने का आश्वासन भी दिया था। शहर में राष्ट्रीय राजमार्ग पर मंडी चौराहे का कट जिला प्रशासन ने मतदान के लिए पोलिंग पार्टियां रवाना होने के नाम पर बंद करा दिया था। प्रशासन ने कट पर बड़े-बड़े कंक्रीट बोल्डर लगवा दिए। इससे राहगीरों को दो से चार किमी का चक्कर काट कर आना जाना पड़ रहा था। वाहन चालकों व राहगीरों को इससे भारी परेशानी हो रही थी। स्थानीय निवासी भी इससे परेशान थे। इसे लेकर व्यापारियों ने डीएम से मुलाकात की थी। उन्होंने 18 अप्रैल के मतदान बाद इन्हें हटवाने का आश्वासन दिया गया था। मतदान के एक हफ्ते बाद भी इन्हें नहीं हटाने पर शनिवार को व्यापारियों ने क्रेन बुलाकर इन्हें हटवाने का प्रयास किया, लेकिन चौराहे पर मौजूद पुलिस बल ने मौके पर पहुंचकर क्रेन चालकों को भगा दिया। इस पर व्यापारियों ने स्वयं ही एकत्रित होकर हाथों से ही दो बोल्डर्स को हटा दिया। व्यापारियों के आक्रोशित रुख को देखते हुए पुलिस ने दोनों ओर से एक-एक बोल्डर हटवा दिए हैं। इससे सिर्फ एक छोटी कार और दुपहिया चालक यहां से सड़क क्रॉस कर सकेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Debarred traders removed from the shop at Mandi crossroads