DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोवर्धन के 8 कुंडों को मिलेगा रजवाहे से जल

गोवर्धन के 8 कुंडों को रजवाह से जल उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही गोवर्धन परिक्रमा में पौधरोपण को भी जल उपलब्ध कराया जाएगा। छोटी परिक्रमा में लगभग 1000 परंपरागत पौधे लगाए जाएंगे। साथ ही कैनाल टॉप सोलर प्लांट की स्थापना भी जल्द होगी। इसके लिए संबंधित परियोजनाओं को ब्रज तीर्थ विकास परिषद अंतिम रूप देने में लगा है।

ब्रज तीर्थ विकास परिषद ने गोवर्धन पर्वत और परिक्रमा मार्ग के चारों ओर हरित पट्टी सुनियोजित ढंग से विकसित करने की परियोजना तैयार की है। मुख्यत: गोवर्धन के आठ कुंडों को रजवाह से जल उपलब्ध कराया जाएगा। संबंधित विभागों के अधिकारी और विशेषज्ञ के विचार-विमर्श के बाद परियोजना आगे बढ़ेगी। उद्यान विभाग गोवर्धन पर्वत के चारों ओर पौधरोपण कराएगा। इसके लिए भी जलापूर्ति की व्यवस्था की जानी है। छोटी परिक्रमा में लगभग 1000 परंपरागत पौधों का सुनियोजित रोपण किया जाएगा। गोवर्धन पर्वत पर भी हरियाली की जानी है। इसके लिए स्प्रिंकलर सिस्टम स्थापित किया जाएगा।

ये तय करेंगे परियोजनाओं का स्वरूप

उपाध्यक्ष एमवीडीए, प्रभागीय निदेशक वन विभाग, जिला उद्यान अधिकारी, अधिशासी अभियंता लोनिवि, अधिशासी अभियंता विद्युत, अधिशासी अभियंता जलनिगम, ईओ गोवर्धन/राधाकुंड, डीपीआरओ, डॉ.सीमा भदौरिया आरबीएस कॉलेज आगरा, डॉ.प्रभात कुमार पूसा इंस्टीट्यूट नई दिल्ली, आनंद बाबा श्रीगिरिराज परिक्रमा संरक्षण एवं संगठन समिति, अनंत शर्मा सचिव उज्ज्वल ब्रज, जिला समन्वयक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, मयंक गर्ग डेरा कंसल्टेंट कृष्णा नगर, समर्थ चतुर्वेदी विस्टा आर्किटेक्ट शामिल होंगे।

इन सब परियोजनाओं को अंतिम रूप देने के लिए 12 जनवरी को जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्रा की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट सभागार में बैठक होगी। परिषद के उपाध्यक्ष शैलजाकांत मिश्र के नेतृत्व में सभी परियोजनाएं पूर्ण की जाएंगी।

नगेंद्र प्रताप, सीईओ, ब्रज तीर्थ विकास परिषद

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:8 pond's of Govardhan will get water from Rajvah