DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हथिनी कुंड से छोड़ा 5.27 लाख क्यूसेक पानी, 106 गांव प्रभावित

यमुना नदी में हथिनी कुंड बैराज से शनिवार को 5.27 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। इससे मथुरा में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। जिससे जनपद के 146 गांवों के प्रभावित होने की आशंका है। संभावित स्थिति को देखते हुए प्रशासन ने कलक्ट्रेट पर नियंत्रण कक्ष स्थापित कर दिया है।

अधिशासी अभियंता अपर खंड आगरा नहर ने प्रशासन को जानकारी दी है कि हथिनी कुंड बैराज से यमुना नदी में 28 जुलाई को 5.27 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। इसके मथुरा जनपद में 1-2 अगस्त की रात में आने की संभावना है। गौरतलब है कि इससे पहले भी 26 जुलाई को हथिनी कुंड बैराज से 1,36,785 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। जो मथुरा जनपद में 29-30 जुलाई की रात में पहुंचेगा। एक दिन के अंतराल में ही करीब साढ़े छह लाख क्यूसेक पानी से मथुरा में बाढ़ की आशंका प्रबल हो गई है। एडीएम फाईनेंस रवींद्र कुमार ने बताया कि कलक्ट्रेट पर कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है। इस पर तीन पालियों में कर्मियों की ड्यूटी लगा दी गई है। यमुना किनारे व निचले भागों में रहने वाले लोगों की सुविधा को बाढ़ चौकियां स्थापित की गई हैं। सभी संबंधित विभागों को अलर्ट रहने के आदेश दिए हैं।

सुरक्षित स्थानों पर जाने की अपील

डीएम सर्वज्ञराम मिश्र ने यमुना नदी के किनारे और निचले स्तर पर बसी आबादी के ग्रामवासियों से अपील की है कि जलस्तर की वृद्धि होने पर मय पशुधन के आबादी छोड़कर वे बाढ़ चौकियों पर पहुंचें।

गोकुल बैराज पर जलस्तर बना कौतूहल

यमुना में जलस्तर की बढ़ोत्तरी के बाद अब लोग गोकुल बैराज पर पानी की लहरें देखने आने लगे हैं। बाढ़ में गोकुल बैराज से निकलने वाले पानी में तेजी से उठती गिरती लहरें पर्यटकों के लिए रोमांचकारी होती हैं। आने वाले दिनों में बैराज पर और लोगों के पहुंचने की उम्मीद है।

कहां-कहां बनी हैं बाढ़ चौकियां

तहसील मांट-

1-बिरला मंदिर

2-बंगाली घाट

3-भरतपुर वाली हवेली असकुंडा

4-डेरीफार्म सदर बाजार

5-ब्लैक स्टोन इंटर कॉलेज

6-बाटी वाली धर्मशाला

7-प्राथमिक पाठशाला औरंगाबाद

8-हजारीमल सोमानी इंका वृंदावन

9-नगर पालिका बालिका इंका वृंदावन

तहसील छाता-

1-प्राथमिक पाठशाला चौड़रस

2-प्राथमिक पाठशाला सेही

3-प्राथमिक पाठशाला मझोई

4-प्राथमिक पाठशाला शाहपुर

5-श्रीदेवमंदिर धनौता

6-प्राथमिक पाठशाला शेरनगर

7-पीडब्ल्यूडी गोदाम शेरगढ़

8-प्राथमिक पाठशाला धीमरी

9-प्राथमिक पाठशाला स्यारहा

10-प्राथमिक पाठशाला भोगांव

11-प्राथमिक पाठशाला बसई बुजुर्ग

तहसील मांट-

1-झाड़ी वाले हनुमान मंदिर

2-प्राथमिक पाठशाला अड्डा मल्लाहन

3-राष्ट्रीय इंटर कॉलेज सुरीरकलां

4-प्राथमिक पाठशाला बेगमपुर

5-प्राथमिक पाठशाला डांगौली

6-प्राथमिक पाठशाला पानीगांव

7-तहसील मुख्यालय मांट

तहसील महावन-

1-आचार्य जुगलकिशोर विद्यालय यमुनापार

2-नेहरू स्मारक इंटर कॉलेज महावन

3-प्राथमिक पाठशाला कमौरा

4-प्राथमिक पाठशाला नगला संजा

तहसील गोवर्धन-

1-निरीक्षण भवन पीडब्ल्यूडी बरसाना

2-डीएवी इंटर कॉलेज गोवर्धन

वृंदावन में यमुना में बढ़ रहा जलस्तर, तटवर्ती कॉलोनियों में मची हलचल

वृंदावन। हथिनी कुंड बैराज से लगातार पानी छोड़े जाने से यमुना का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। तटवर्ती क्षेत्रों में बनी कॉलोनियों में पानी घुसने से हलचल मची है। बाढ़ का खतरा बना हुआ है। घाटों से होकर निकलने वाला परिक्रमा मार्ग जलमग्न हो गया है। पुलिस एवं प्रशासन द्वारा अभी तक किसी तरह के सुरक्षा के इंतजामात नहीं किए गए।

रविवार को यमुना का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। जिससे यमुना के तटों पर होकर बने परिक्रमा मार्ग मे करीब तीन फुट पानी आ गया है। इससे परिक्रमा मार्ग पूरी तरह बंद हो गया है। वहीं कालीदह, गऊघाट, पानीघाट के कई क्षेत्रों के साथ ही यमुना के तटवर्ती क्षेत्रों में बनी कॉलोनियों में यमुना का पानी घुसने लगा है। मधुर कार्ष्णि गऊशाला सहित कई आश्रम में भी जलभराव हो गया है। इससे खादर में बनी कॉलोनियों में हड़कंप है। लोग अपने घरों को पानी से सुरक्षित करने में लगे हैं। बताया जा रहा है कि हथिनीकुंड से लगातार बड़े पैमाने पर छोड़ी जा रही जलराशि से यमुना का जलस्तर पर अगस्त के पहले सप्ताह तक बना रहेगा। बाढ़ नियंत्रण कक्ष से सिंचाई विभाग अपर खंड आगरा कैनाल के एक्सईएन मोरमुकट का कहना है कि हथिनीकुंड से लगातार यमुना में जल छोड़ा जा रहा है। लेकिन अभी बाढ़ का खतरा नहीं है। जो भी पानी अपस्ट्रीम से आ रहा है। वह लगातार गोकुल बैराज से पास हो रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:5.27 lakh cusec water released from Hathni Kund, 146 villages in the district will be affected