DA Image
19 अक्तूबर, 2020|9:54|IST

अगली स्टोरी

बाबरी विध्वंस पर फैसला आया तो जताई खुशी, जलाए दीप

बाबरी विध्वंस पर फैसला आया तो जताई खुशी, जलाए दीप

बुधवार को बाबरी विध्वंस का फैसला आ गया। सभी 32 आरोपी सीबीआई कोर्ट ने बरी कर दिए। इस फैसले को लेकर लोगों में उत्सुकता थी। आरोपी बरी किए गए तो लोगों ने राहत की सांस ली। समर्थकों ने खुशी का इजहार किया। नगर के एकरसानंद आश्रम में फैसला आने के बाद खुशी जताई गई और दीपोत्सव हुआ। आश्रम में स्वामी हरिहरानंद महाराज के निर्देशन में दीप जलाए गए और भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण का संकल्प लिया गया। उधर, फैसले को लेकर शहर में हालात सामान्य रहे। कहीं भी फैसले से जुड़ी तल्खी नहीं दिखी। अधिकारियों ने पूरे जिले के माहौल पर नजर रखी।

बुधवार की शाम नगर के एकरसानंद आश्रम में फैसले पर खुशी जताई गई। स्वामी हरिहरानंद महाराज ने कहा कि 28 साल बाद यह फैसला आया है। सभी आरोपी बरी हुए यह राहत भरी खबर है। बड़े नेता इस केस में आरोपी थे। वह भी बरी हो गए। आज का दिन खुशियों भरा दिन है। समय से पहले दीवाली मनाने का मौका मिला है। उन्होंने कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का शिलान्यास हो चुका है। इस मौके पर स्वामी रामेश्वरानंद महाराज, डा. संजीव मिश्र वैद्य, सूर्यकांत त्रिपाठी, श्याम दीक्षित, डा. रामबदन पांडेय, उदयवीर सिंह राठौर, अतुलकृष्ण दुबे, सत्यदेव मिश्रा, अनिल त्रिपाठी, अरविंद त्रिवेदी, विद्याशरण मिश्रा, राजीव मिश्रा, अनुज शाक्य आदि के साथ शहर के लोगों ने आश्रम परिसर में दीपोत्सव किया और फैसले पर खुशी जाहिर की। इस मौके पर मिठाई का वितरण भी किया गया। डीएम महेंद्र बहादुर सिंह, एसपी अजय कुमार पांडेय ने भी इस फैसले को लेकर अधीनस्थों को पहले ही अलर्ट जारी कर दिया था।

इंसेट

भोगांव में इलाकों पर रखी गई नजर

भोगांव। बाबरी विध्वंस के फैसले को लेकर कस्बा में एसडीएम सुधीर कुमार, सीओ अमर बहादुर सिंह ने माहौल पर नजर रखी। अधिकारियों ने जगह-जगह तैनात पुलिस बल से पूरे दिन अपडेट लिया। रामजानकी सभागार, जामा मस्जिद, मोहल्ला मोहम्मद सईद, मोहल्ला करियानीम, मोहल्ला चौधरी के आसपास के इलाकों में पुलिस ने भ्रमण किया। पूरे कस्बा में माहौल रोज की तरह सामान्य रहा। संवेदनशील इलाकों पर पुलिस ने नजर रखी।

किशनी में फैसले पर जताई गई खुशी

किशनी। बाबरी विध्वंस का फैसला आया तो लोगों ने खुशी का इजहार किया। मंदिर आंदोलन से जुड़े रवींद्र सिंह भदौरिया, स्वामी अनंतानंद, रामनरेश गुप्ता, मुनींद्र सिंह, चेयरमैन अनिल मिश्रा, राजीव कुमार, सुधीर कुमार गुप्ता, विनोद गुप्ता, सत्यनारायण मिश्रा, महेंद्र पाल सिंह, पूर्व चेयरमेन सरला चौहान, शिवेंद्र सिंह, अनिल भदौरिया, प्रभाकर प्रताप सिंह, संजय गुप्ता, जीतू गुप्ता प्रधान, अशोक गुप्ता, शिवानू चौहान, बॉबी भदौरिया, गुड्डू शर्मा, रामू गुप्ता, अनिल गुप्ता, आदेश गुप्ता, गीता गुप्ता, ऊषा चौहान आदि ने फैसले का स्वागत कर मिठाई खिलाई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:When the decision on Babri demolition came expressed happiness lit the lamp