DA Image
Sunday, November 28, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मैनपुरीबीएसए कार्यालय पर सत्याग्रह पर बैठे शिक्षामित्र

बीएसए कार्यालय पर सत्याग्रह पर बैठे शिक्षामित्र

हिन्दुस्तान टीम,मथुरा
Thu, 17 Aug 2017 07:43 PM
बीएसए कार्यालय पर सत्याग्रह पर बैठे 
शिक्षामित्र

प्रदेश सरकार के दो टूक जवाब से शिक्षामित्र एक बार फिर सड़क पर उतर आए हैं। गुरुवार को शिक्षामित्रों ने बीएसए कार्यालय पर सत्याग्रह किया। इससे कार्यालय में सरकारी कामकाज पूरी तरह से प्रभावित रहा। इस दौरान ज्ञापन दिया गया। शिक्षामित्र संघर्ष समिति के तीनों संयोजकों का कहना है कि सरकार को अपने फैसले में फेरबदल करना होगा। उनकी मांगें नीतिगत हैं। प्रदेश भर में 1.70 लाख शिक्षामित्रों को हटाने से कम से कम पांच लाख लोग प्रभावित हुए हैं। संयोजक दुष्यंत सारस्वत, गिरधारीलाल शर्मा व खेम सिंह चौधरी ने कहा है कि अपर मुख्य सचिव राजप्रताप सिंह द्वारा 31 जुलाई 17 को दिए सुझाव एवं 10 अगस्त को वार्ता विफल होने से शिक्षामित्रों का भविष्य अंधकारमय हो गया है। प्रदेश के लगभग 70 प्रतिशत शिक्षामित्र सहायक अध्यापक नहीं बन सकेंगे। अब तक संगठन द्वारा दिए गए मांग पत्र पर कोई विचार नहीं किया गया है। उन्होंने कहा है कि मांगे पूरी न होते देख प्रांतीय संगठन के आह्वान पर जिला संगठन अपनी मांगों को लेकर सत्याग्रह जारी रखेगा। ये शिक्षा मित्र रहे उपस्थित दीपक गुप्ता, मुकेश उपाध्याय, राजकुमार चौधरी, मुंशिफ अली, शिव कुमार, संजय सिंह सिसौदिया, हाकिम सिंह, रामकुमार, कौशल, नीरज तिवारी, देवकी, मंजू, हेमवती, गीता देवी, रेखा, अनीता, सुनीता, सरिता, रमाकांत, वीरेंद्र सिंह, राजीव चौधरी, सुषमा, तेजवीर सिंह, सविता डागर, सुभाष चौधरी, भगवान सिंह, गिरिजेश चौधरी, गोविंद गुप्ता, अमरूदीन, जयसिंह, हेमलता, अजय, नीलम आदि उपस्थित रहे। ये होगी आंदोलन की रूपरेखा -17, 18 व 19 अगस्त को धरना-सत्याग्रह -21 अगस्त को शिक्षामित्र लखनऊ होंगे रवाना

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें