DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अवा नदी के गायब होने की खबर लखनऊ पहुंची, मांगी गई रिपोर्ट

करहल और बरनाहल की सीमा से गुजरी अवा नदी के लापता होने की गूंज शासन तक पहुंच गई है। सरकार ने नदी के गायब होने की रिपोर्ट तलब की है। मंगलवार को मैनपुरी आए प्रदेश के नगर विकास राज्यमंत्री गिरीशचंद्र यादव ने इस बात का खुलासा किया। राज्यमंत्री ने कहा कि नदी के गायब होने के मामले में वे डीएम से बात करेंगे। नदी से कब्जा हटाया जाएगा। नदी पर जिन लोगों ने कब्जा किया है उनके खिलाफ एफआईआर होगी और उन्हें जेल भेजा जाएगा।

मंगलवार को मैनपुरी आए नगर विकास राज्यमंत्री ने अवा नदी के गायब होने पर हैरानी जताई। कहा कि योगी सरकार ने नदी, तालाब, पोखर के अलावा सभी सरकारी जमीनों से अवैध कब्जे हटाने की मुहिम चला रखी है। इसके लिए विशेष भू माफिया अभियान भी शुरू किया है। पानी की कमी दूर करने के लिए नदी, रजवाह और तालाबों की अत्यंत जरूरत है। ऐसे में मैनपुरी में नदी का गायब होना बड़ी बात है। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान ने नदी के गायब होने का खुलासा कर बड़ा मामला सामने रखा है। मैनपुरी प्रशासन इस नदी को पुर्नजीवित करेगा। डीएम से वार्ता कर इस संबंध में पूरी रिपोर्ट ली जा रही है। नदी को पुर्नजीवित करने का अभियान जल्द चलेगा।

महिला संगठन आज देगा डीएम को ज्ञापन

मैनपुरी। उधर मंगलवार को अवा नदी के अस्तित्व को वापस लाने के लिए महिलाओं के सामाजिक संगठन ने डीएम को ज्ञापन देने का फैसला लिया है। आयशा स्मृति संस्थान की सचिव आराधना गुप्ता ने हिन्दुस्तान की मुहिम की सराहना की और कहा कि संगठन नदी को वापस लाने में पूरा सहयोग करेगा। इस संबंध में संगठन की ओर से डीएम को ज्ञापन देकर नदी को पुर्नजीवित कराने की मांग की जाएगी।

नदी का पुर्नजीवन बेहद जरूरी है। नदी पर किन परिस्थितियों में कब्जा हुआ इसकी जांच कराई जाएगी और जो लोग भी नदी पर कब्जा कर रहे हैं उन पर कार्रवाई होगी।

गिरीशचंद्र यादव नगर विकास राज्यमंत्री

मैनपुरी में पानी का संकट लगातार बढ़ रहा है। जलदोहन से समस्या और बढ़ गई है। करहल, बरनाहल में अवा नदी का गायब होना बड़े सवाल खड़े करता है।

अशोक चौहान पूर्व विधायक

पानी संकट दूर करने के लिए सरकार नदी बना रही है। तालाब खोद रही है। वहीं दूसरी ओर भू माफिया अवा नदी पर कब्जा कर उसे खत्म कर रहे हैं।

अजयपाल सिंह चौहान भाजपा जिलाउपाध्यक्ष

नदी से कब्जा हटाना बेहद जरूरी है। बरनाहल, करहल में पानी संकट पहले से है। नदी को पुर्नजीवन देकर पानी संकट दूर किया जा सकता है।

राहुल राठौर पूर्व ब्लाक प्रमुख

नदी से कब्जा हटाने से पहले उन लोगों पर कार्रवाई की जाए जिनकी वजह से नदी का अस्तित्व खत्म हुआ। अभियान चलाकर नदी को जीवन देना जरूरी है।

अहिबरन सिंह राजपूत

नदी को जीवन देने के लिए प्रशासन की कोशिशें सफल होंगी। हिन्दुस्तान ने बड़ा मुद्दा सामने रखा है। नदी को जीवन देने की पूरी कोशिश की जाएगी।

उपदेश कुमार यादव

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:News of disappearance of river Ava reached Lucknow, report sought