DA Image
1 दिसंबर, 2020|8:26|IST

अगली स्टोरी

मैनपुरी में सुस्त पड़े बाजारों में छायी करवाचौथ की रौनक

default image

दिवाली से पहले करवाचौथ के त्योहार का उत्साह छाने लगा है। महिलाओं से जुड़े इस त्योहार की घर-घर में रौनक दिखने लगी है। 4 नवंबर को इस बार ये त्योहार धूमधाम से मनाया जाएगा। खरीदारी को लेकर बाजारों को सजाया जा रहा है। कुछ महिलाओं ने खरीदारी भी शुरू कर दी है। कपड़ा बाजार, सराफा बाजार इस त्योहार को लेकर बेहद उत्साहित है। गिफ्ट और सौंदर्य प्रसाधन से जुड़े मार्केट भी गुलजार होने लगे हैं। 4 नवंबर को भीड़ अधिक रहेगी इसलिए ब्यूटी पार्लरों पर एडवांस बुकिंग शुरू हो गई है।

जिलेभर में बुधवार को करवाचौथ का पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा। इस पर्व को मनाने के लिए घरों में तैयारियां शुरू हो गई हैं। पति की दीर्घायु के लिए महिलाएं करवाचौथ पर्व पर निर्जला व्रत रखती हैं। महिलाओं के इस खास पर्व को लेकर बाजारों को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है। महिला ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए दुकानदारों ने उपहार योजनाओं की भी शुरुआत की है। कपड़ा मार्केट में साड़ी की दुकानों पर महिलाओं की खरीदारी शुरू हो गई है। चूड़ी व मेहंदी की दुकानों पर भी महिलाओं की भीड़ पहुंच रही है। सराफ मनोज सोलंकी का कहना है कि सोने-चांदी के आभूषणों पर महंगाई है। कोरोना महामारी के चलते बाजार पहले से ही सुस्त हैं। लेकिन करवाचौथ के त्योहार से आशाएं हैं।

त्योहारों को कैश करने में जुटे दुकानदार

मैनपुरी। कोरोना महामारी के चलते बाजार सुस्त हैं। दुकानदारों को भी इसकी मार झेलनी पड़ी है। लेकिन अब त्योहारी सीजन को कैश करने के लिए दुकानदारों ने तैयारी कर ली है। शहर में दुकानदार त्योहारों को कैश करने के लिए सामान स्टॉक करने में जुट गए हैं। त्योहारों पर गरीब, मध्यम और उच्च वर्ग यानी सभी खरीदारी करते हैं। ऐसे में दुकानदार अपनी दुकानों, गोदामों को भरने में जुटे हैं। साड़ी की दुकान करने वाले राजू तेवतिया का कहना है कि दो दिन बाद करवाचौथ का पर्व आने वाला है। इस पर्व पर साड़ी की डिमांड अधिक रहती है। इस बार आकर्षक साड़ियों का स्टॉक कर लिया है। करवाचौथ पर जमकर खरीदारी होगी ऐसी उन्हें पूरी उम्मीद है।