DA Image
27 सितम्बर, 2020|5:00|IST

अगली स्टोरी

18 संदिग्ध कोरोना की जांच के लिए पहुंचे अस्पताल, लिए सैंपल

18 संदिग्ध कोरोना की जांच के लिए पहुंचे अस्पताल, लिए सैंपल

शुक्रवार को पिता-पुत्र सहित सात लोग भोगांव सीएचसी पहुंचे। इन सभी ने कोरोना की जांच कराने के लिए चिकित्सकों से अनुरोध किया। चिकित्सकों ने इन सभी के कोरोना सैंपल लिए और उन्हें जांच के लिए सैफई भेज दिया। इन सभी को सघन निगरानी में रखा गया है। शुक्रवार को भोगांव के ही नवोदय विद्यालय में कुल 19 लोग क्वारंटाइन कराए गए हैं। इनमें से एक संदिग्ध जनपद गाजीपुर, एक महाराष्ट्र के अमरावती से आया है। इसके अलावा भोगांव, जगतपुर, मोटा, पुखरा से दो-दो, सुल्तानगंज के चार, आवास विकास कालोनी, किशनी, जागीर, बेवर का एक-एक व्यक्ति भी नवोदय में क्वारंटाइन कराया गया है।

डॉक्टर अमित भारती ने जानकारी दी कि गुरुवार की रात कुल 86 लोगों की रिपोर्ट नैगेटिव आयी है। इन सभी को होम क्वारंटाइन कराने के लिए भेज दिया गया है। सीएचसी भोगांव में आगरा के 9, मैनपुरी के 4 कोरोना पॉजिटिव अब रह गए हैं। इन सभी 13 लोगों को सघन निगरानी में रखा गया है। डॉक्टर ने बताया कि मैनपुरी के लिए ये राहत भरी खबर है। 8 में से 4 कोरोना पॉजिटिव ठीक हो चुके हैं। अब 4 ही पॉजिटिव रह गए हैं। उम्मीद की जा रही है कि ये चारों भी जल्द ठीक हो जाएंगे और उन्हें भी घर भेज दिया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग के निर्देशन में सीएचसी भोगांव और नवोदय विद्यालय पर कार्यरत मेडिकल स्टाफ सघन निगरानी में सभी का परीक्षण कर रहा है।

पिता-पुत्र सहित पांच नवोदय में रोके गए

भोगांव। नवोदय में तैनात डिप्टी सीएमओ राकेश कुमार, डा. मनीष कुशवाह, डा. नंदन गुप्ता, विवेक राजपूत, सुनील कुमार शर्मा, पारस गुप्ता, मनोज मलिक व क्षितिज वर्मा की टीम ने शुक्रवार को स्वेच्छा से जांच के लिए आए 18 लोगो के सैंपल सैफई भेजे हैं। इनमें से पिता पुत्र सहित पांच लोगों को जाचं रिपोर्ट आने तक के लिए विद्यालय में रोका गया है। शेष को होम क्वारंटाइन करा दिया गया है।

क्वारंटाइन क्षेत्र में तैनात सिपाही को फटकार

भोगांव। शुक्रवार को नवोदय विद्यालय में एसडीएम सुधीर कुमार व सीओ प्रयांक जैन अचानक निरीक्षण करने पहुंच गए। अधिकारियों ने सुरक्षा में तैनात एक पुलिसकर्मी को क्वारंटाइन किए गए क्षेत्र में आने जाने से लोगों को नहीं रोके जाने पर कड़ी फटकार लगाई। सीओ प्रयांक जैन ने बताया कि सुरक्षा का जिम्मा पूरी तरह पुलिस पर है इसलिए किसी भी आने जाने वालों को बिना पूरी जांच किए अंदर नहीं घुसने दिया जाए और जहां पर हॉटस्पॉट का लाल निशान लगाया है। उसके अंदर स्वास्थ्य विभाग के सिवाय अन्य कोई भी नहीं आ जा सकता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:18 suspects arrived at the hospital to investigate Corona sampled for