DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › महाराजगंज › टारगेट पर होंगे टीकाकरण में लापरवाही बरतने वाले कर्मी
महाराजगंज

टारगेट पर होंगे टीकाकरण में लापरवाही बरतने वाले कर्मी

हिन्दुस्तान टीम,महाराजगंजPublished By: Newswrap
Thu, 10 Jun 2021 11:01 PM
टारगेट पर होंगे टीकाकरण में लापरवाही बरतने वाले कर्मी

महराजगंज। निज संवाददाता

कमिश्नर रवि कुमार एनजी गुरुवार को पहली बार जनपद में आए। उन्होंने कलक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक कर कोविड नियंत्रण, कोविड टीकाकरण व इंसेफेलाइटिस की गहन समीक्षा की। कड़ी चेतावनी दी कि टीकाकरण और इलाज में लापरवाही बरतने वाले एमवाईसी को टारगेट पर लेकर उनके खिलाफ कार्रवाई करें।

कमिश्नर के पहली बार जिले में आने पर डीएम डॉ. उज्ज्वल कुमार, सीडीओ गौरव सिंह सोगरवाल ने गुलदस्ता देकर स्वागत किया। कलक्ट्रेट परिसर की खूब साफ-सफाई कराई गई थी। समीक्षा बैठक में कमिश्नर ने कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण प्रक्रिया में तेजी लाने का निर्देश दिया। कहा कि टीकाकरण में तेजी या लक्ष्य को पूरा नहीं करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करें। गांवों में 45 प्लस सहित सभी आयु वर्ग के महिला व पुरुष का अधिक से अधिक टीकाकरण कराएं। जिससे तीसरे लहर का किसी प्रकार का कोई प्रभाव न हो। गांव में टीकाकरण के लिए आशा, आगंनबाड़ी कार्यकत्री व सहायिका, एएनएम, ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सचिव व ग्राम विकास अधिकारी समन्वय बनाकर कोविड टीकाकरण में लोगों का सहयोग करते हुए उनका टीकाकरण कराएं।

कमिश्नर ने सीएमओ को निर्देश दिया कि इसमें लापरवाही नहीं एक्टिव रहने की जरूरत है। टीकाकरण प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए चेकलिस्ट बनाएं। जहां टीकाकरण का कैम्प लग रहा है उसकी सूचना अधिकारियों को भी दें। कैम्प में कोई न कोई अधिकारी जरूर जाएंगे। डीएम डॉ. उज्ज्वल कुमार ने बताया कि गांवों में कैम्प लगाकर टीकाकरण किया जा रहा है। मेरा गांव कोरोना मुक्त गांव की तर्ज पर टीकाकरण कराया जा रहा है। टीकाकरण के लिए धर्म गुरूओं के साथ बैठक कर अधिक से अधिक टीकाकरण की योजना बना ली गई है। उन्होंने सीएमओ को निर्देश दिया कि वर्ष 2017, 2018, 20019, 2020 में जेईएस/एईएस से पीडि़त बच्चों के गांव की ब्लाकवार लिस्ट बनाकर समीक्षा करें। देखें कि रोग से पीडि़त बच्चा कब अस्पताल में पहुंचा। उपचार बाद उसकी क्या स्थिति रही। जेई व एईएस से पीडि़त बच्चों का जांच कराकर उनकी स्थिति अनुसार दवा कराएं। डीपीआरओ को निर्देश दिया कि इंसेफेलाइटिस वाले बच्चों के गांव को चिह्नित कर वहां साफ सफाई व दवा का छिड़काव अवश्य करवाएं। तालाब-पोखरों की सफाई करवाएं। अन्य स्थानों पर जलजमाव नहीं हो इसके लिए पानी निकासी की व्यवस्था भी कराएं। बैठक में सीडीओ गौरव सिंह सोगरवाल, एडीएम कुंज बिहारी अग्रवाल, सीएमओ डॉक्टर अशोक कुमार श्रीवास्तव, एसडीएम सदर साई तेजा सिलम, अपर एसडीएम अविनाश कुमार,डीपीआरओ केबी वर्मा डीपीओ शैलेंद्र कुमार, बीएसए ओमप्रकाश यादव आदि मौजूद रहे।

संबंधित खबरें