Salary of six absent employees stopped four including doctors summoned - नदारद छह कर्मचारियों का वेतन रोका, डॉक्टर समेत चार से जवाब तलब DA Image
18 फरवरी, 2020|4:05|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नदारद छह कर्मचारियों का वेतन रोका, डॉक्टर समेत चार से जवाब तलब

नदारद छह कर्मचारियों का वेतन रोका, डॉक्टर समेत चार से जवाब तलब

डीएम डॉ. उज्ज्वल कुमार ने मंगलवार को घुघली ब्लाक कार्यालय व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र घुघली का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान ब्लाक से गायब छह कर्मचारियों को वेतन रोककर जवाब मांगा है। वहीं पीएचसी में बाद में आने पर तीन डॉक्टरों समेत एक एलटी को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण तलब किया है। सीएमओ, पीपीओ व बीडीओ को कर्मचारियों को नियंत्रण में रखने व कर्मचारियों को अपनी कार्य प्रणाली में सुधार करने की चेतावनी दी।

डीएम दोपहर करीब 12:15 बजे घुघली ब्लाक कार्यालय पर पहुंचे। इस दौरान ब्लाक उपस्थिति रजिस्टर व भ्रमण रजिस्टर के निरीक्षण में कोआर्डिनेटर सुधाकर मौर्य, तकनीकी सहायक सुरेंद्र यादव, सूर्यनारायण, चंद्रभान, सुजीत कुमार, जेई कृष्णमोहन व एडीओ केदारनाथ द्विवेदी अनुपस्थित रहे। इस पर नाराजगी जताते हुए सभी का वेतन रोकते हुए स्पष्टीकरण तलब करने का निर्देश दिया। इसके बाद उन्होंने आकस्मिक पंजिका, सेवा पुस्तिका, जीपीएफ, पास बुक, स्थापना पंजिका का निरीक्षण किया। निरीक्षण में पाया कि वर्ष 2019-20 में प्रधानमंत्री आवास का चार लक्ष्य था, जिसमें दो आवास पूरा है। पचरुखिया में जमीन आवंटन के कारण आवास का धन अवमुक्त नहीं हो पाया। उन्होंने सभी आवासों को समय से पूरा कराने का निर्देश दिया। उन्होंने मनरेगा सेल में मस्टरोल पंजिका रिजेक्टेड ट्रांजेक्शन के विषय पर जानकारी ली। इसमें मानव दिवस का लक्ष्य पूरा होने पर संतोष व्यक्त किया। डीएम ने ब्लाक कार्यालय परिसर में आवासों की भी जांच की। उन्होंने सभी कर्मचारियों को आवास में रहने व दायित्वों को ठीक से निभाने का निर्देश दिया।

पीएचसी पर डॉक्टर समेत टेक्नीशियन से स्पष्टीकरण

डीएम ने ब्लॉक के बाद प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का भी निरीक्षण किया। इसमें डॉक्टर अमित विक्रम, शशिभूषण, महिला डॉक्टर अंकिता भाटिया व एलटी अभय सिंह अपनी कुर्सी से गायब थे। वे निरीक्षण के समय पहुंचे। उपस्थिति पंजिका पर हस्ताक्षर बनाने व अपनी कुर्सी से गायब रहने पर इनसे स्पष्टीकरण तलब किया है। सीएमओ को निर्देश दिया कि डॉक्टरों व कर्मचारियों पर नियंत्रण रखें। कार्य प्रणाली में सुधार नहीं हुआ तो कठोर कार्रवाई की जाएगी।

चार ब्लॉकों का चार्ज हटेगा

डीएम ने सीडीपीओ कार्यालय का भी निरीक्षण किया। इस दौरान आंगनबाड़ी केंद्रों को पुष्टाहार वितरित किया जा रहा था। लेकिन सीडीपीओ मौजूद नहीं रहे। पता चला कि सीडीपीओ के पास चार ब्लाकों का चार्ज है। इस पर सुधार करने का निर्देश दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Salary of six absent employees stopped four including doctors summoned