Question on caste certificate of Ward member scrutiny - सभासद के जाति प्रमाण पत्र पर सवाल, स्क्रूटनी हुई DA Image
7 दिसंबर, 2019|7:50|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सभासद के जाति प्रमाण पत्र पर सवाल, स्क्रूटनी हुई

सभासद के जाति प्रमाण पत्र पर सवाल, स्क्रूटनी हुई

नगर पालिका परिषद महराजगंज के एक सभासद के जाति प्रमाण पत्र पर सवाल खड़ा हो गया है। विपक्षी की शिकायत पर शुक्रवार को अधिकारियों की टीम ने दोनों पक्ष के लोगों की मौजूदगी में जाति प्रमाण पत्र का स्क्रूटनी हुआ। जांच-पड़ताल पूरा होने के बाद निर्णय आएगा कि सभासद का जाति प्रणाम पत्र वैध है या अवैध। उनकी सभासदी बच जाएगी या पद से हटना पड़ेगा।

नगर पालिका परिषद महराजगंज के पड़री बुजुर्ग वार्ड निवासी श्रवण निगम ने जिलाधिकारी को वर्ष 2018 में शिकायत दर्ज कराया था कि निकाय चुनाव में पड़री बुजुर्ग वार्ड नंबर 17 पिछड़ी जाति के लिए आरक्षित था। जिसमें वार्ड के महेन्द्र गुप्त पिछड़ी साहू जाति का प्रमाण पत्र फर्जी तरीके से बनवाकर 2017 में चुनाव लड़े और जीत भी गए। जबकि महेन्द्र गुप्त जाति के बनिया बकाल हैं। जिसका 1345 फसली में भी जिक्र है। बनिया बकाल सामान्य जाति के अन्तर्गत आते हैं। इसप्रकार महेंद्र गुप्त का जाति प्रमाण पत्र अवैध है। उसे निरस्त कर कार्यवाही किया जाए। सभासद के जाति प्रमाण पत्र को चुनौती देने के बाद से जांच पड़ताल शुरू हुआ। इसके क्रम में जांच व सत्यापन के लिए दोनों पक्ष को सभी अभिलेखों व साक्ष्यों के साथ शुक्रवार को कलेक्ट्रेट पर तलब किया गया था। जिला स्क्रूटनी कमेटी के अपर जिलाधिकारी, अपर उप जिलाधिकारी, जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी की मौजूदगी में दोनों पक्ष की सुनवाई की गई। एडीएम कंुज बिहारी अग्रवाल ने बताया कि दोनों पक्ष का बयान ले लिया गया है। इसके बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

विधायक पर हस्तक्षेप का आरोप

शिकायतकर्ता श्रवण निगम ने आरोप लगाया है कि सभासद को बचाने के लिए सदर विधायक मामले में हस्तक्षेप कर रहे हैं। निष्पक्ष जांच कर कार्यवाही नहीं हुई तो कोर्ट का सहारा लेंगे। वहीं सदर विधायक जयमंगल कन्नौजिया का कहना है कि इस मामले में हमसे कुछ लेना देना नहीं है। जो कागज में है उसमें कोई कुछ भी नहीं कर सकता। जो कागज बोलता है वहीं होता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Question on caste certificate of Ward member scrutiny